मैच फिक्सिंग को लेकर पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर का सबसे बड़ा खुलासा

कराची। अपने जमाने के तूफानी गेंदबाज और रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने एक बयान देकर सबको चौंका दिया। शोएब अख्तर ने दावा किया कि 1996 में मैच फिक्सिंग अपने चरम पर थी और कहा कि उस समय ड्रेसिंग रूम में माहौल अनुकूल नहीं था।bowlers

अख्तर ने जियो न्यूज चैनल से कहा, ‘मुझ पर विश्वास कीजिए उस समय (1996) ड्रेसिंग रूम का माहौल सबसे बदतर था।’ उन्होंने कहा, ‘सिर्फ क्रिकेट के अलावा काफी कुछ चल रहा था और ड्रेसिंग रूप में क्रिकेट पर ध्यान देना मुश्किल था। यह खराब माहौल था।’

इस विवादास्पद तेज गेंदबाज ने यह दावा उस समय किया है जब दो पाकिस्तानी दिग्गजों जावेद मियांदाद और शाहिद अफरीदी ने आपसी मतभेद का हल निकाल लिया है जिसने एक बार फिर पाकिस्तानी क्रिकेट में मैच फिक्सिंग प्रकरण और आरोपों के सामने आने का खतरा पैदा कर दिया था।

अख्तर ने हालांकि स्पष्ट किया कि उन्हें खुशी है कि मियांदाद और अफरीदी ने मतभेद सुलझा लिए हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं आपसे कह सकता हूं कि अगर यह मामला अदालत में जाता तो और गंदी चीजें बाहर आती और दोबारा कई नाम सामने आते। ’अख्तर ने कहा कि उन्होंने 2010 में बाए हाथ के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर को सलाह दी थी कि वे इंग्लैंड में उन लोगों से दूर रहें जिनके चरित्र पर संदेह है।

You May Also Like

English News