मोंटी पानेसर ने किया अश्विन की ताकत का खुलासा

चेन्नई। इंग्लैंड को भारत में 2012 में टेस्ट सीरीज में जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले स्पिनर मोंटी पानेसर का मानना है कि इस बार मेहमान टीम की राह आसान नहीं होगी।

मोंटी पानेसर ने किया अश्विन की ताकत का खुलासा

34 वर्षीय मोंटी ने उक्त सीरीज में 26.82 की औसत से 17 विकेट लेते हुए एलिस्टेयर कुक की टीम को भारत में 2-1 से सीरीज अपने नाम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार मोंटी के कंधे का पिछले वर्ष दिसंबर में ऑपरेशन हुआ और वे अब राष्ट्रीय टीम में वापसी की तैयारियों में जुटे हुए हैं। मोंटी इन दिनों ऑस्ट्रेलिया में लीग क्रिकेट में खेल रहे हैं।

WWE रिंग में महिला पहलवानों ने पार की सारी हदें

इस बार भारत में पांच मैचों की सीरीज में इंग्लैंड की उम्मीदों के बारे में पूछे जाने पर मोंटी ने कहा, ‘यह इस बात पर निर्भर करेगा कि स्पिनर कैसी गेंदबाजी करते हैं। तेज गेंदबाजों के मामले में तो इंग्लैंड घरेलू टीम से बेहतर है। इंग्लैंड की बल्लेबाजी का दायित्व मुख्य तौर पर कप्तान कुक और जो रूट पर रहेगा। स्पिनरों को बेसिक्स पर ध्यान देना होगा। उन्हें यह समझना होगा कि भारत की विभिन्न पिचों पर कैसे गेंदबाजी करना है। जफर अंसारी ने बांग्लादेश में डेब्यू किया है और उनके लिए यह सीरीज बेहद चुनौतीपूर्ण रहेगी।‘ इंग्लैंड ने इस दौरे के लिए पूर्व पाकिस्तानी स्पिनर सकलैन मुश्ताक को सलाहकार के रूप में नियुक्त किया है और पानेसर का मानना है कि यह कदम इंग्लिश टीम के लिए लाभदायक साबित हो सकता है।

भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की पानेसर ने जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘पिछले कुछ वर्षों में अश्विन परिपक्व स्पिनर बन गए है। अश्विन गेंदबाजी के मामले में लगातार खुद को अपडेट करते रहते हैं और उनका क्रिकेटिंग ब्रेन ही उनकी मुख्य ताकत है।

पानेसर के अनुसार यदि हरभजनसिंह की वापसी हो गई तो यह भारतीय टीम और ज्यादा खतरनाक हो सकती है। यदि भज्जी कुछ समय में टीम इंडिया में वापसी कर लेंगे तो उन्हें आश्चर्य नहीं होगा।

 

You May Also Like

English News