बड़ी खबर: मोदी के मंत्री ने तलवार से काटा भारत का नक्शा, भड़का विपक्ष मांग रहा इस्तीफा

ऑल अरुणाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (एपीसीसी) ने शनिवार (26 अगस्त) को केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू सहित दो अन्य नेताओं पर राष्ट्रीय झंडे का अपमान करने का आरोप लगया है। एपीसीसी लीडर ने कहा है कि किरण रिजिजू के साथ राज्य के उप मुख्यमंत्री चोना मीन ने राष्ट्रीय झंडे का अपमान किया है। उन्होंने केक नुमा भारतीय झंडे (तिरंगे) और भारत के नक्शे को तलवार से काटा है। ये तिरंगे का अपमान है।बड़ी खबर: मोदी के मंत्री ने तलवार से काटा भारत का नक्शा, भड़का विपक्ष मांग रहा इस्तीफा

अभी-अभी: CM योगी ने किया बड़ा ऐलान, कहा- पहले चरण में होगी 60 हजार पुलिसकर्मियों की भर्ती

इससे पहले बीते शुक्रवार (25 अगस्त) को केक नुमा भारत के नक्शे काटे जाने के आरोप में अरुणाचल प्रदेश यूथ कांग्रेस (एपीवाईसी) ने केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू, उप मुख्यमंत्री चोना मीन को बर्खास्त किए जाने की मांग की थी। दरअसल बीते गुरुवार को यहां भारतीय जनता युवा मोर्चा (बीजेवाईएम, बीजेपी यूथ विंग) द्वारा एक कार्यक्रम आयोजन किया गया, जहां कथित तौर केक नुमा तिरंगे और भारत के नक्शे को काटा गया। वहीं कांग्रेस स्टेट प्रेसिडेंट टोकम संजय ने कहा, ‘ये सब बीजेपी के मंत्रियों की उपस्थिति में हुआ है। विधायक भी वहां मौजूद थे। भारत के नक्शे और तिरंगो को काटा जाना निंदनीय है। ये भारत का अपमान है। राष्ट्रीय सम्मान अधिनियम, 1971 के एक्ट के तहत ये असंवैधानिक है। ऐसा पहली बार नहीं है जब भाजपा नेताओं ने राष्ट्रीय झंडे का अपमान किया हो।’

#RJD रैली: तो क्या यही है लालू की विपक्षी एकता, और क्या इसी से डर रही है बीजेपी?

उन्होंने आगे कहा कि जो भाजपा नेता खुद को सबसे बड़ा देशभक्त और राष्ट्रवादी बताते हैं उन्होंने अपनी संस्कृति के अनुसार ही तिरंगे का अपमान किया है। यहां तक खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस के दिन तिरंगे वाले रूमाल का इस्तेमाल किया था। अन्य प्रोग्रामों में भी वो तिरंगे पर हस्ताक्षर करते रहे हैं। भाजपा के पूर्व विधायक गोपाल कृष्ण ने भी तिरंगे का अपमान किया था जो कि तिंरगे पर चलते हुए नजर आए थे। गौरतलब है कि इस दौरान कांग्रेस उन सभी खबरों को सिरे से खारिज किया है जिसमें पश्चिमी जिले के 12 जिला परिषद सदस्य भाजपा में शामिल हुए थे।

 

You May Also Like

English News