मोदी चौक नहीं, जमीनी विवाद में हुई हत्या: जेडीयू ने भी कहा

बिहार के दरभंगा में हुई हत्या की घटना पर जमकर सियासी बयानबाजी हो रही है. पुलिस और राज्य के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के बाद अब सत्ताधारी गठबंधन के मुख्य दल जेडीयू ने भी हत्या के पीछे जमीनी विवाद बताया है. जबकि केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता गिरिराज सिंह पुलिस-प्रशासन के दावे पर सवाल उठा रहे हैं.मोदी चौक नहीं, जमीनी विवाद में हुई हत्या: जेडीयू ने भी कहा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के प्रवक्ता राजीव रंजन ने हत्या के पीछे पुलिस के बयान को सही ठहराया है. राजीव रंजन ने कहा है, ‘बीजेपी नेता क्या कह रहे हैं, वो महत्वपूर्ण नहीं है. हम आधिकारिक रिपोर्ट मानते हैं, जो कहती है कि ये दो परिवारों की आपसी रंजिश की वजह से हुआ है.’ 

दरअसल, 15 मार्च की रात दरभंगा में मारपीट की एक घटना सामने आई. जिसमें एक शख्स की मौत हो गई, जबकि दूसरा घायल हो गया. घायल शख्स ने आरोप लगाया कि उनके द्वारा एक चौराहे का नाम मोदी चौक रखने के चलते ये हमला किया गया. जबकि दरभंगा के एसएसपी सत्यवीर सिंह ने मीडिया को दिए बयान में इस बात से इनकार किया. उन्होंने कहा कि जमीनी विवाद में पुरानी दुश्मनी के चलते इस मर्डर को अंजाम दिया गया.

इतना ही नहीं, पुलिस के अलावा बिहार के उप-मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी ने भी हत्या की वारदात के पीछे चौराहे का नाम मोदी चौक रखने के आरोप से इनकार किया. उन्होंने ट्वीट कर बताया था कि मोदी चौक पर बोर्ड के चलते हत्या की बात गलत है. ये बोर्ड काफी पहले लगाया गया था और इसका हत्या से कोई वास्ता नहीं है.

सुशील मोदी के इस बयान के बावजूद केंद्रीय मंत्री और बिहार से आने वाले बीजेपी नेता गिरिराज सिंह घायल व्यक्ति के आरोपों को सही बता रहे हैं. शनिवार को उन्होंने घायल से मुलाकात की और कहा कि भूमि विवाद से इस घटना का कोई लेना-देना नहीं है. गिरिराज सिंह ने पुलिस प्रशासन पर केस गलत दिशा देने का आरोप भी लगाया. लेकिन अब पुलिस और सुशील कुमार मोदी के बाद जेडीयू प्रवक्ता ने भी साफ कर दिया है कि हत्या के पीछे  मोदी चौक का विवाद नहीं है, बल्कि जमीनी विवाद है.

You May Also Like

English News