मोदी ने खोला कालेधन का चिट्ठा, गिनाए नोटबंदी के फायदे…

लाल किले के प्राचीर से आजादी के 71वें महापर्व पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए नोटबंदी के फायदों की पूरी फेहरिस्त पेश की. नोटबंदी के फायदों को गिनाते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यह कदम भी देश में कोऑपरेटिव फेडरलिज्म के सिद्धांतों पर चलने और जनमानस से मिले समर्थन के कारण पूरा हो सका.

मोदी ने खोला कालेधन का चिट्ठा, गिनाए नोटबंदी के फायदे...

वही इस कदम को कालेधन पर लगाम लगाने की दिशा में बेहद अहम करार देते हुए प्रधानमंत्री ने दावा किया कि केन्द्र सरकार का नोटबंदी का फैसला पूरी तरह से सफल हुआ है. मोदी ने ऐलान किया कि इस सफलता के बाद अब केन्द्र सरकार कालेधन को पूरी खत्म करने के लिए कड़े से कड़े कदम उठाने के लिए तैयार है.

नोटबंदी पर सरकार की सफलता का आंकड़ा पेश करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बीते तीन साल के दौरान कालेधन पर लगाम लगाने की दिशा में आगे बढ़ते हुए 800 करोड़ रुपये से अधिक की बेनामी संपत्ति की धरपकड़ की गई है. इंडिपेंडेंस डे के इस मौके पर कालेधन पर लगाम और नोटबंदी के आंकड़ों पर प्रधानमंत्री ने ये 5 महत्वपूर्ण बाते कहीं.

1. नोटबंदी के लगभग 3 लाख करोड़ रुपये जो बैंकिंग व्यवस्था से पूरी तरह बाहर था, वापस आ चुका है. इसमें से लगभग 2.25 लाख करोड़ रुपये का कालाधन संभावित है जिसकी जांच की जा रही है.

2. नोटबंदी लागू होने के बाद से अर्थव्यवस्था में नए कालेधन के सृजन को रोकने में भी बड़ी सफलता दर्ज की गई है.1 अप्रैल से 5 अगस्त 2017 तक इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या 56 लाख पहुंच गई. यह संख्या एक साल पहले वित्त वर्ष के लिए महज 22 लाख थी.

3. नोटबंदी के बाद 18 लाख ऐसे लोगों की पहचान की गई जो इनकम टैक्स के दायरे से बाहर थे.

4. पीएम मोदी ने कहा कि नोटबंदी के बाद 1 लाख ऐसे लोगों की भी पहचान कर दायरे में लाया गया है जिन्होंने इनकम टैक्स का नाम भी नहीं सुना था.

5. पीएम मोदी ने ऐलान किया कि देश में 2-4 कंपनियां बंद होती हैं तो बड़ी परेशानी का सबब होती है, लेकिन नोटबंदी के बाद केन्द्र सरकार ने 3 लाख शेल कंपनियों की पहचान की और इनमें से 1.75 लाख शेल कंपनियों का रजिस्ट्रेशन निरस्त कर दिया गया है.

You May Also Like

English News