‘मौत’ की बारिश: कहीं छत गिरी तो कहीं बिजली, 4 की हुई मौत…

पंजाब के लोगों पर आज बारिश मौत बनकर टूटी। कहीं घरों के छत गिर गए तो कही लोग बिजली की चपेट में आ गए, देखिए 'मौत' की बारिश: कहीं छत गिरी तो कहीं बिजली, 4 की हुई मौत...

बीजेपी को बढ़त और अपनी हार के बाद, BJP से मुकाबला करने के लिए संतों की शरण में कांग्रेस

पहला मामला पंजाब के बठिंडा का है, जहां तेज आंधी के बाद शुरू हुई बारिश वीरवार शाम तक जारी रही। इस वजह से सिरकी बाजार के अंदर पानी भर गया। यहां बिजली के खंभे में करंट आने से कुलदीप सिंह (32) की मौत हो गई। वह लकड़ी के मिस्त्री का काम करता था। स्थानीय लोगों ने बताया कि बीते 3 दिनों से बिजली विभाग को उक्त खंभे में करंट आने के बारे में सूचित किया जा रहा था। वहीं  विभाग ने इस पर ध्यान नहीं दिया।  

दूसरा मामला मोगा का है, जहां बुधवार आधी रात के बाद लगातार 8 घंटे बारिश हुई। इससे अंडरब्रिज में तकरीबन 6 फुट तक पानी भर गया। यहां बारिश में नहाते बच्चे की करंट लगने से मौत हो गई। थाना सिटी साउथ पुलिस के मुताबिक आकाश राम (11) निवासी अगवाड़ हाकम बारिश में नहा रहा था। इस दौरान गली बारिश के पानी से भर गई। वह पानी में तैरती किसी चीज को पकड़ने लगा तो वहां लगे बिजली के खंभे में करंट होने से वह चपेट में आ गया। पुलिस के मुताबिक बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई।

तीसरा मामला पटियाला का है, जहां पिछले दो दिनों से रुक-रुककर हो रही बारिश के से बुधवार रात धीरू की माजरी इलाके में एक मकान की छत गिर गई। छत के मलबे के नीचे दबने से एक छह साल के बच्चे की मौत हो गई, जबकि उसका दादा घायल हो गया।

संबंधित सिविल लाइन थाने के एएसआई अंग्रेज सिंह ने बताया कि बुधवार रात धीरू की माजरी इलाके में रहने वाले लक्ष्मण सिंह का बेटा परविंदर अपने दादा चानन सिंह (70) के साथ घर में मौजूद था। इसी बीच बारिश के कारण घर की छत गिर गई। छत के मलबे के नीचे दबने से परविंदर बुरी तरह से घायल हो गया, जबकि उसके दादा को सिर व पैर में मामूली चोटें आईं। गंभीर हालत में परविंदर को स्थानीय कोलंबिया एशिया अस्पताल में ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत बताया। परविंदर के पिता लक्ष्मण सिंह पेशे से मजदूरी था।

चौथा मामला मानसा का है, जहां गांव नंगल कला में वीरवार सुबह बारिश से पीरखाने के एक कमरे की छत गिरने से 3 साल की बच्ची की मौत हो गई। हादसे में उसकी मां जख्मी हो गई। घटना के समय दोनों मां-बेटी सो रही थी। राजस्थान की संगरियां मंडी की गुग्गु कौर गांव नंगल कला में अपनी बीमार बहन का पता लेने परिवार के साथ आई हुई थी। 

You May Also Like

English News