मौसम की मार से बाजार में मची हडकंप, सब्जियां महंगी, कहां है सरकार?

एक तरफ जहां शादी ब्याह का सीजन है तो दूसरी तरफ बदलता हुआ मौसम, लेकिन इन सब की मार कहीं ना कहीं आम आदमी की जेब और रसोई में दिखाई दे रही है. पिछले 7 दिन में ही सब्जियों के दाम 10 से 15 रुपये प्रति किलोग्राम तक अचानक बढ़ गए हैं.मौसम की मार से बाजार में मची हडकंप, सब्जियां महंगी, कहां है सरकार?
 Miss World मानुषी छिल्लर पीएम मोदी से मिली, ट्विट कर दी जानकारी!

अगर सब्जियों की बात करें तो सबसे ज्यादा दाम टमाटर और प्याज के बढ़े हैं और शायद यह दोनों ही ऐसी सब्जियां हैं जिनके बिना रसोई का सारा स्वाद अधूरा रहता है.
 

दिल्ली, मुंबई हो या फिर चेन्नई सभी शहरों में सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं. राजधानी की आजादपुर मंडी की बात की जाए तो यहां टमाटर 45 से 50 रुपये के दाम से बिक रहे हैं. वहीं, प्याज का दाम 35 से 50 रुपये किलो है. शिमला मिर्च और गोभी भी 25 से 30 रुपये किलो के बीच मिल रही है.
 

खीरा का दाम 28 से 30 रुपये किलो, बंद गोभी 20 से 25 रुपये और चुकंदर भी 20 से 25 रुपये किलो बिक रहा है. थोक बाजार में सब्जियों के भाव तो कम हैं, लेकिन खुदरा बाजार में सब्जियां महंगी बिक रही हैं.
 

व्यापारियों का कहना है कि मंडियों में प्याज कम आ रही हैं. माल देरी से पहुंचने के कारण सब्जियां महंगी हो रही हैं. वहीं, कुछ व्यापारी सब्जियां महंगी होने का कारण कम पैदावार बता रहे हैं.
 

प्याज की सबसे अधिक पैदावार करने वाले राज्य महाराष्ट्र और कर्नाटक से प्याज की बड़ी खेप आने की बातें कही जा रही हैं. इसके बाद ही दामों में कमी आने की उम्मीद जताई जा रही है.
 

सब्जियों के दाम मुंबई में भी बढ़े हुए हैं. मुंबई में प्याज 50 से 55 रुपये तो वहीं टमाटर 35 से 50 रुपये किलो बिक रहे हैं. चंडीगढ़ भी महंगाई की मार से अछूता नहीं है. यहां पिछले एक हफ्ते से प्याज के दाम 35 से 40 रुपये और टमाटर के दाम 50 से 55 बने हुए हैं. 

You May Also Like

English News