मौसम ने अचानक बदली अपनी फिजा बारिश संग ओले, तोडा 100 साल का रिकॉर्ड

नई दिल्ली। गुरुवार को मौसम की फिजा अचानक बदल गई। दिल्ली- एनसीआर में हुई जर्बदस्त बारिश से अधिकतम पारा 7 डिग्री तक गिर गया। गुरुवार की शाम तक दिल्ली में 23मिमी से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई, जो इस सदी में जनवरी के महीने में किसी भी दिन हुई सबसे ज्यादा बारिश है।

मौसम ने अचानक बदली अपनी फिजा बारिश संग ओले, तोडा 100 साल का रिकॉर्ड

यूपी चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों को ‘विभीषणों’ से भी लड़नी होगी जंग

एनसीआर में भी बादल छाए रहे और दोपहर में ही अंधेरा सा छा गया। बारिश से एक बार फिर सर्दी बढ़ गई। बारिश का दौर बुधवार रात से ही शुरू हो गया था। वहीं पंजाब और हरियाणा में गुरुवार को बारिश हुई। हरियाणा में तो कई जिलों में ओले पड़े।

यही हाल उत्तर प्रदेश के कई जिलों का भी रहा। मौसम विभाग का कहना है कि ऐसी ही स्थिति अगले दो से तीन दिनों तक रहेगी। शुक्रवार को मौसम साफ रहेगा। शनिवार को एक और पश्चिमी विक्षोभ आएगा।

रेलवे यातायात भी प्रभावित

खराब मौसम के कारण रेल यातायात भी प्रभावित हुआ है। 23 ट्रेनें कई घंटों की देरी से चल रही है, जबकि तीन को रद कर दिया गया है और एक के समय में परिवर्तन किया गया है। हरियाणा में गणतंत्र दिवस की सुबह बारिश और ओले के साथ हुई।

प्रदेश के सभी जिलों में दिन भर बारिश हुई और हिसार, महेंद्रगढ़, भिवानी, सिरसा और करनाल में ओले सहित कई जिलों में ओले भी गिरे हैं। हिसार के मिर्जापुर गांव में 6 से 10 इंज मोटी परत जम गई। बारिश और ओलों से सरसों की फसल को काफी नुकसान हुआ है।

मौसम विज्ञानियों के अनुसार हवा का रुख पश्चिम से बदलकर पूर्व की तरफ से हो गया है, जिसने ठंड बढ़ा दी है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि 28 जनवरी को एक और पश्चिमी विक्षोभ बन रहा है। इससे पहाड़ों पर बर्फबारी हो सकती है, जो हरियाणा, पंजाब, दिल्ली में ठंड बढ़ाएगी।

कल से से शुरू हो रही है नवरात्रि, ये पाठ करने से मिलेगी प्रगति और अपार धन

वहीं, हरियाणा के कृषि मंत्री ओपी धनखड़ ने कहा कि प्रदेश में जहां भी ओलावृष्टि हुई है, उस क्षेत्र में सम्बंधित एसडीएम और तहसीलदार फसल बीमा योजना के तहत तुरंत खेतों में जाकर रिपोर्ट लेंगे। धनखड़ ने कहा कि हर नुकसान का मुआवजा दिया जाएगा।

You May Also Like

English News