PM मोदी म‌िशन-2019 की शुरुआत बाबा केदारनाथ के आशीर्वाद से करेंगे….

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मिशन 2019 का शंखनाद केदारनाथ धाम से करेंगे। इसके लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने योजना बनाने का कार्य शुरू कर दिया है। आगे जान‌िए और क्या है उनका प्लान…PM मोदी म‌िशन-2019 की शुरुआत बाबा केदारनाथ के आशीर्वाद से करेंगे....

Big News: कुछ ही देर में शुरु होने वाली है भाजपा भगाओ रैली!

पीएम मोदी केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण कार्यों को अक्तूबर 2018 तक पूरा कराने के लिए प्रदेश सरकार को जरूरी निर्देश दिए गए हैं। सितंबर में शाह केदारनाथ पहुंचकर कार्यों का शिलान्यास करेंगे। केंद्र सरकार, केदारनाथ धाम को सुरक्षित, सुंदर और मजबूत बनाने के लिए योजना बना रही है। सरस्वती और मंदाकिनी नदी के दोनों मंदिर वाले तरफ सुरक्षा दीवार बनाई जाएगी। 

इन दीवारों पर जगह-जगह पर सौंदर्यीकरण के लिए छोटी-छोटी चबुतरे भी बनाए जाएंगे। इसके अलावा सरस्वती नदी पर संगम से गेबिन वॉल तक करीब 350 मीटर लंबे पित्र घाट का निर्माण किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार बीते 11 अगस्त को दिल्ली में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष शाह के घर पर अहम बैठक हुई, जिसमें मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्यसचिव एस. रामास्वामी, जिंदल गु्रप के सज्जन जिंदल एनआईएम के प्राचार्य कर्नल अजय कोठियाल और रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल मौजूद थे। 

 बैठक में मुख्य रूप से केदारनाथ पुनर्निर्माण पर चर्चा की गई और अक्तूबर 2018 तक हरहाल में सभी कार्य पूरे करने का लक्ष्य रखते हुए कार्यों की जिम्मेदारी कर्नल कोठियाल को सौंपी गई। एक वर्ष की अवधि में होने वाले कार्यो में जिंदल गु्रप भी बड़ा निवेश करेगा। 
 
सूत्रों का कहना है कि धाम में होने वाले सुरक्षा दीवार व पित्र घाट निर्माण के शिलान्यास के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह करेंगे, जो संभवत: सितंबर में केदारनाथ पहुंच सकते हैं। जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवंबर 2018 में धाम पहुंचकर योजनाओं का लोकार्पण कर मिशन 2019 का शंखनाद भी करेंगे। इधर, प्रशासन का कहना है कि पर्यटन सचिव के दौरे के बाद ही निर्माण कार्यों को पूरा करने की अंतिम समय सीमा निर्धारित की जाएगी। 
 
न‌िम के प्राचार्य कर्नल अजय कोठियाल केदारनाथ पुनर्निर्माण को लेकर केंद्र सरकार ने हम पर जो विश्वास जताया है, उस पर खरा उतरने के लिए हम कृत संकल्प हैं। जो भी जिम्मेदारी मिलेगी, उसे पूरी कर्तव्यनिष्ठा और ईमानदारी के साथ निभाया जाएगा। 

You May Also Like

English News