यरुशलम पर हमारा रुख किसी तीसरे देश से प्रभावित नहीं होगा: भारत

येरूशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने की अमेरिका की घोषणा पर प्रतिक्रिया में भारत ने कहा कि फलस्तीन पर उसका रुख स्वतंत्र और सुसंगत है. किसी तीसरे देश से उसका नजरिया प्रभावित नहीं है.यरुशलम पर हमारा रुख किसी तीसरे देश से प्रभावित नहीं होगा: भारतअभी-अभी: कैलिफोर्निया के जंगलों में भीषण आग, 150 से ज्यादा इमारतें राख

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि फिलिस्तीन पर भारत का रुख उसके अपने विचारों और हितों के अनुरूप है. किसी तीसरे देश के रुख से इस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है.

अमेरिका द्वारा येरूशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने पर भारत के रुख के संबंध में पूछे गए एक सवाल पर उन्होंने कहा, ‘फिलिस्तीन पर भारत का रुख स्वतंत्र और सुसंगत है. यह हमारे विचारों और हितों के अनुरूप है ना कि किसी तीसरे देश के नजरिए के अनुरूप है.’

बता दें कि अमेरिकी के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने येरूशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने की घोषणा की थी, जो इस पवित्र शहर पर दशकों से चली आ रही अमेरिकी और अंतरराष्ट्रीय नीति के विपरीत है.

इस मौके पर ट्रंप ने कहा, ‘पूर्व राष्ट्रपतियों ने इस बारे में अभियान चलाया, लेकिन इस वादे को पूरा करने में असफल रहे. आज मैं इस वादे को पूरा कर रहा हूं’. 

ट्रंप ने अमेरिकी प्रशासन को इस बारे में निर्देश देते हुए कहा कि इजरायल के तेल अवीव स्थित अमेरिकी दूतावास येरूशलम ले जाने की प्रक्रिया शुरू की जाए. येरूशलम इस्लाम और ईसाईयों की श्रद्धा का केंद्र है. साथ ही यह इजरायल और अरब के बीच विवाद का भी केंद्र है.

बता दें कि फिलिस्तीन पूर्वी येरूशलम को अपनी राजधानी मानता है, जहां अल अक्सा मस्जिद स्थित है.

loading...

You May Also Like

English News