यहां मिला है सबसे पुराना सोने का खजाना, यहां के फैक्ट्स हैरान कर देंगे

बुल्गारिया आज अपनी आजादी का जश्न मना रहा है। यूरोप का ये खूबसूरत देश पहाड़, बीच, सुंदर गांवों और अच्छे खाने के लिए मशहूर है। इसके साथ ही इसे दुनिया के सबसे पुराने सोने का खजाने के ठिकाने के तौर पर भी जाना जाता है।

यहां मिला है सबसे पुराना सोने का खजाना, यहां के फैक्ट्स हैरान कर देंगे

 
यही नहीं, ये यूरोप का अकेला ऐसा देश है, जिसके स्थापना के बाद से अपना नाम नहीं बदला। यहां हम बुल्गारिया के ऐसे ही कुछ शॉकिंग और इंट्रेस्टिंग फैक्ट्स बता रहे है। बाबा वेन्गा बुल्गारिया में जन्मी ब्लाइंड भविष्यवक्ता थीं।
 
वे ‘नास्त्रेदमस फ्रॉम द बाल्कन’ के नाम से मशहूर हैं। वेन्गा ने 50 साल में करीब 100 भविष्यवाणियां कीं, जिनमें से ज्यादातर सच साबित हुईं। इनकी कई भविष्यवाणियां क्लाइमेट और नेचुरल डिजास्टर से संबंधित थीं। इन्होंने 9/11 आतंकी हमले से लेकर सुनामी, फुकुशिमा हादसे और आईएसआईएस के उदय की भविष्यवाणियां की थीं, जो सही साबित हुईं।
 
बुल्गारिया में मौजूद वरना नेक्रोपोलिस आर्कियोलॉजिकल साइट है। ऑर्कियोलॉस्टि्स के मुताबिक, यहां दुनिया का सबसे पुराना सोने का खजाना मिला था। ये खजाना 4600 ईसा पूर्व से 4200 ईसा पूर्व के बीच का था। एक्सकेवेटर ऑपरेटर (रायचो मरिनोव) को अक्टूबर 1972 में अचानक इसका पता चला था। इस जगह के 30 फीसदी इलाके की खुदाई अब भी नहीं हुई है।
 
बुल्गारिया यूरोप का ऐसा अकेला देश है, जिसका नाम नहीं बदला। 681 ईसवी पहले बुल्गारियन एम्पायर के तौर पर इसकी स्थापना हुई, तब से इसका यही नाम है बुल्गारियन एयरफोर्स की पायलट रायना कासाबोवा का नाम भी इतिहास में दर्ज है। वो मिलिट्री फ्लाइट का हिस्सा बनने वाली दुनिया की पहली महिला थीं। 15 साल की उम्र में वो 1912 में पहले बाल्कन युद्ध में के दौरान मिलिट्री फ्लाइट का हिस्सा बनीं।

You May Also Like

English News