यूपीबीए की वर्तमान कार्यकारिणी पर डिप्टी रजिस्ट्रार की मुहर

पूर्व में दिए आर्डर को किया निरस्त, विजय सिन्हा पर लगाया भ्रामक साक्ष्य प्रस्तुत करने का आरोपयूपीबीए की वर्तमान कार्यकारिणी पर डिप्टी रजिस्ट्रार की मुहर

लखनऊ। पूर्व में डा.विजय सिन्हा द्वारा यूपी बैडमिंटन एसोसिएशन की वैधता पर लगाए गए प्रश्नचिन्ह  को विराम देते हुए डिप्टी रजिस्ट्रार, लखनऊ ने अपने पूर्व आदेश को निरस्त करते हुए संशोधित नवीन आदेश जारी किया है। डिप्टी रजिस्ट्रार अजय गुप्ता ने गत 10 मार्च, 2017 को जारी अपने एक नवीनतम आदेश में यूपी बैडमिंटन एसोसिएशन को वैध ठहराया है। इस आदेश में डा.विजय सिन्हा व केसी श्रीवास्तव के पक्ष में पूर्व में दिए गए आदेश को खारिज करते हुए डिप्टी रजिस्ट्रार ने उन पर कूट रचना, भ्रामक साक्ष्य प्रस्तुत करने व साक्ष्यों को छुपाने का आरोप लगाया हैं। डिप्टी रजिस्ट्रार ने अपने नवीन आदेश में यूपी बैडमिंटन एसोसिएशन की वर्तमान कार्यकारिणी (चेयरमैन पूर्व केंद्रीय मंत्री डा.अखिलेश दास गुप्ता, अध्यक्ष आलोक रंजन व सचिव अरूण कक्कड़) को कानूनी रूप से वैध ठहराया है। वहीं विजय सिन्हा द्वारा पूर्व में लगाए गए आरोपों को सिरे से नकार दिया है। 

आज बैडमिंटन अकादमी में आयोजित प्रेस वार्ता में यूपीबीए के कार्यकारी सचिव अरुण कक्कड़ ने बताया कि हमें ये बताते हुए अत्यंत हर्ष हो रहा है कि दो जाने-माने इन्डोनेशियाई बैडमिंटन कोच – द्वी क्रिस्टिवां  तथा मोहम्मद मिफ्ताख ने योनेक्स सनराइज बी.बी.डी. यू.पी. बैडमिंटन अकादमी,लखनऊ को ज्वाइन कर लिया है। इन्हें साईं की तरफ से नियुक्त किया गया है। इन्होंने कई विदेशी टूर्नामेंट्स में अपने देश का नाम ऊँचा किया हैं।

You May Also Like

English News