यूपी उपचुनाव : 11 बजे तक गोरखपुर में 17% फूलपुर में 12% मतदान, अखिलेश बोले-इतिहास बदलने का मौका

उत्तर प्रदेश में फूलपुर और गोरखपुर लोकसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान शुरू हो गया है. दोनों सीटों पर बीजेपी और सपा के बीच कांटे का मुकाबला है. फूलपुर में बीजेपी के कौशलेंद्र पटेल और बसपा समर्थित सपा प्रत्याशी नागेंद्र पटेल के बीच मुकाबला माना जा रहा है. जबकि कांग्रेस के मनीष मिश्रा और बाहुबली अतीक अहमद भी निर्दलीय मैदान में हैं. वहीं, गोरखपुर में बीजेपी के उपेंद्र शुक्ला और बसपा समर्थित सपा प्रत्याशी प्रवीण निषाद और कांग्रेस की सुरहिता करीम मैदान में हैं.

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने गोरखपुर और डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने फूलपुर सीट से पिछले साल इस्तीफा दे दिया था. इसके चलते दोनों सीटों पर उपचुनाव हो रहा है. दोनों ने अपनी सीटों पर जमकर प्रचार किया है. ऐसे में दोनों बीजेपी के दिग्गज नेताओं की की प्रतिष्ठा दांव पर है.

LIVE UPDATES

केंद्रीय राज्य वित्त मंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने परिवार के साथ गोरखपुर में मतदान किया.
11.22 AM : फूलपुर लोकसभा सीट पर 11 बजे तक 12 फीसदी मतदान

11.20 AM: गोरखपुर लोकसभा में 11 बजे तक 17 फीसदी मतदान.

यूपी के गोरखपुर और फूलपुर सीट पर हो रहे उपचुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि आज का दिन इतिहास बदलने का भी है और नया इतिहास बनाने का भी. सबको साथ लेकर निकलें और दिखा दें कि हमारी एकजुटता में कितनी ताकत है. इसके नतीजे देश-प्रदेश के भविष्य के लिए क्रांतिकारी और निर्णायक साबित होंगे.

आज का दिन इतिहास बदलने का भी है और नया इतिहास बनाने का भी. सबको साथ लेकर निकलें और दिखा दें कि हमारी एकजुटता में कितनी ताक़त है. इसके नतीज़े देश-प्रदेश के भविष्य के लिए क्रांतिकारी और निर्णायक साबित होंगे.

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में मतदान करने के बाद बोले , ‘गोरखपुर और फूलपुर दोनों सीटों पर हो रहे उपचुनाव में बीजेपी भारी मतों से जीत दर्ज करेगी. पीएम मोदी के विकास के आधार पर 2019 के चुनाव नतीजे बीजेपी के लिए बेहतर होंगे.’

योगी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राहुल को अपनी नकारात्मक राजनीति के बारे में सोचना चाहिए. देश में कांग्रेस का सफाया हो रहा है. हिमाचल और अब मेघालय में कांग्रेस की हार के बाद अब बारी कर्नाटक की है.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में किया मतदान.

यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने किया मतदान.

प्रदेश की दो लोकसभा सीटों गोरखपुर और फूलपुर में उपचुनाव के लिए आज यानी रविवार को वोट डाले जा रहे हैं. मतदान को लेकर सभी तरह की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. गोरखपुर लोकसभा सीट पर सुबह 7 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक मतदान होगा.

उपचुनाव में सपा-बसपा गठबंधन की हवा निकल जाएगी: केशव मौर्य

मतदान करने से पहले केशव मौर्य से आजतक के संवाददाता ने बातचीत की. केशव मौर्य ने कहा कि फूलपुर लोकसभा सीट पर 2014 के लोकसभा चुनाव में 100 में से 53 वोट बीजेपी को मिले थे और 47 वोट सपा, बसपा सहित सारे विपक्षी दलों के मिले थे. उसी तर्ज पर उपचुनाव में भी होगा और नतीजा बीजेपी के पक्ष में होगा.

उन्होंने कहा कि मोदी के विजय रथ को रोकने के लिए जो सपा-बसपा ने गठबंधन किया है. उपचुनाव में ही इसकी हवा निकल जाएगी. फूलपुर और गोरखपुर दोनों लोकसभा सीट पर बीजेपी उम्मीदवार भारी मतों से जीत दर्ज करेंगे.

केशव ने कहा कि मोदी लहर अभी भी कायम है और 2019 में भी रहेगी. इसी डर से पूरा विपक्ष एकजुट हो रहा है, लेकिन कोई फायदा मिलने वाला नहीं है. देश में मोदी के विकास को जनता स्वीकार रही है.

गोरखपुर में वोट डालने से सुबह 5 बजे पहले योगी ने गोरखनाथ मंदिर में की पूजा.

गोरखपुर से योगी पांच बार रहे सांसद

गोरखपुर बीजेपी की परंपरागत सीट मानी जाती है, इसीलिए गोरखपुर को बीजेपी का दुर्ग कहा जाता है. महंत अवैद्यनाथ ने 1989 में हिंदु महासभा के टिकट पर चुनाव के जीत का जो सिलसला शुरू किया, वह आज भी जारी है. महंत अवैद्यनाथ गोरखपुर से चार बार सांसद रहे, 1970 में निर्दलीय, 1989 में हिंदु महासभा, और फिर 1991 व 1996 में बीजेपी से लोकसभा सदस्य बने.

गोरखुपर में महंत अवैद्यनाथ की राजनीतिक विरासत को योगी आदित्यनाथ ने 1998 में संभाला तो फिर पलटकर नहीं देखा. पिछले पांच बार से लगातार योगी बीजेपी के टिकट से संसद पहुंचते रहें.

फूलपुर सपा का मजबूत गढ़

दरअसल फूलपुर सीट पर एसपी का भी मजबूत जनाधार है. यही वजह है कि 1996 से लेकर 2004 तक समाजवादी पार्टी का उम्मीदवार यहां से लगातार जीतता रहा है. फूलपुर लोकसभा सीट से कुर्मी समाज के कई सांसद बने हैं. प्रो. बी.डी. सिंह, रामपूजन पटेल (तीन बार), जंग बहादुर पटेल (दो बार) एसपी के टिकट पर सांसद रह चुके हैं. इसके बाद एसपी ने 2004 के लोकसभा चुनाव में अतीक अहमद को फूलपुर से प्रत्याशी बनाया जो विजयी रहे, लेकिन इसके बाद 2009 के चुनाव में बीएसपी के टिकट पर पंडित कपिल मुनि करवरिया चुने गए और 2014 में बीजेपी के केशव प्रसाद मौर्य.

You May Also Like

English News