उत्तर प्रदेश के चुनाव में लड़ाई से बाहर हुई भाजपा

लखनऊ। काोग्रेस से गठबंधन के बाद लगातार चुनावी रैलियां करने में व्यस्त अखिलेश यादव ने गुरुवार को एक बार फिर से भाजपा पर हमला बोला है। अखिलेश आज पश्चिमी उत्तर प्रदेश में छह चुनावी सभा कर रहेंगे।

उत्तर प्रदेश के चुनाव में लड़ाई से बाहर हुई भाजपा
 

भाजपा नेता ने पंखुरी को लेकर दिया एेसा बयान, की दर्ज हो गया केस

इस दौरान उन्होंने लंबे समय तक दंगे के कारण प्रभावित रहे मुजफ्फरनगर के खतौली की जनसभा में भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोलने के साथ ही प्रदेश में समाजवादी वादी पार्टी तथा कांग्रेस की सरकार बनने पर भरोसा जताया।

 
विधानसभा चुनाव के प्रचार में आज मुजफ्फरनगर के खतौली में अखिलेश यादव ने कहा कि अभी तो मैं प्रदेश में बहुत कम ही जगह पर गया हूं, लेकिन जहां-जहां पर गया हूं, उससे तो लग रहा है कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार फिर से आने वाली है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी तो उत्तर प्रदेश के चुनाव में लड़ाई से ही बाहर हो गई है।
 
अखिलेश यादव ने आगे कहा कि हमने पांच वर्ष में उत्तर प्रदेश का सर्वांगीण विकास किया है। अब उसी विकास को और तेजी से आगे बढ़ाने का समय है। उन्होंने कहा कि अब तो उत्तर प्रदेश में कांग्रेस भी साथ आ गयी है। कांग्रेस के साथ मिलकर हम बहुमत की सरकार बनायेंगे।
 
अखिलेश यादव ने भाजपा के अच्छे दिन पर ऊंगली उठाई। उन्होंने कहा कि, हमने सारे दिन देख लिए लेकिन अभी तक अच्छे दिन नहीं दिखे हैं। उन्होंने कहा कि, केंद्र सरकार ने गन्ना किसानों के लिए कुछ भी नहीं किया है। कालाधन अब तक नहीं आया है। भाजपा के अच्छे दिन के वादे खोखले निकले हैं।
 
अखिलेश यादव ने कहा कि, भाजपा वाले सबसे ज्यादा चालू हैं। केंद्र सरकार ने नोटबंदी कर के आम जनता को लाइन में खड़ा कर दिया।
 
इस दौरान नोटबंदी से जितने लोगों की मौत हुई उन्हें समाजवादी पार्टी की सरकार ने पर्याप्त मुआवजा दिया। अब तो लगता है कि लोग भाजपा के खिलाफ हैं। भाजपा यूपी चुनाव की लड़ाई से बाहर हो चुकी है। भाजपा की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है।
 
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव शामली के साथ बागपत में भी चुनावी सभा को संबोधित करने के बाद आगरा मंडल का रुख करेंगे। अखिलेश यादव मुजफ्फरनगर के खतौली, शामली के कैराना तथा बागपत के बड़ौत में आज जनसभा करेंगे। इसके बाद फीरोजाबाद के शिकोहाबाद, जसराना, सिरसागंज में भी वह अपनी सरकार की वरीयता तथा काम को गिनाएंगे।

You May Also Like

English News