यूपी चुनाव : चौथे चरण में इन 15 दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

यूपी चुनाव के चौथे चरण में राजा भैया, संपत पाल, सिद्धार्थनाथ सिंह और अदिति सिंह सहित इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर लगी है। इस चरण में विरासत की सियासत बचाने और बुंदेलखंड में बाजी मारने में नेताओं के पसीने छूट रहे हैं। आइए जानते हैं किन-किन दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर है :यूपी चुनाव : चौथे चरण में इन 15 दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

बड़ी खबर: फिर से दहाड़े स्वामी, सामने रखे 21 सबूत, लेकिन पीएम मोदी के अपने

रायबरेली सदर : नए रंगरूटों में मुकाबला

रायबरेली सदर से पांच बार से विधायक चुने जा रहे अखिलेश सिंह की बेटी अदिति सिंह इस बार कांग्रेस से चुनावी मैदान में उतरी हैं। भाजपा ने अनीता श्रीवास्तव और बसपा ने मो. शहबाज खां को प्रत्याशी बनाया है। पहली बार चुनाव लड़ रहे तीनों ही प्रत्याशी एक-दूसरे को चुनौती दे रहे हैं। 

ऊंचाहार : दिग्गजों की साख दांव पर

यहां सपा के मौजूदा विधायक एवं कैबिनेट मंत्री डॉ. मनोज कुमार पांडेय दूसरी बार विधानसभा पहुंचने के लिए मैदान में हैं। पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कर्ष मौर्य 2012 में बसपा से चुनाव हारने के बाद इस बार भाजपा से फूल खिलाने उतरे हैं। 

बीजेपी शासित राज्यों में हिंदुओं के लिए श्मशान घाट बनवाएं पीएम मोदी

महिलाओं की आवाज बनने वाली गुलाबी गैंग की कमांडर संपत पाल तीसरी बार विधानसभा मैदान में हैं । 2006 में संपत पाल ने महिलाओं की समस्याओं पर आंदोलन शुरू किया और गुलाबी गैंग बनाया था। एक बार फिर से कांग्रेस ने संपत पाल को उम्मीदवार बनाया है। इससे पहले वे 2012 में मानिकपुर सीट से कांग्रेस के टिकट से चुनाव लड़ीं, लेकिन हार गईं।

 बबीना में सांसद पुत्र की प्रतिष्ठा


झांसी जिले के बबीना विधानसभा सीट पर सपा से राज्यसभा सदस्य डॉ. चंद्रपाल सिंह यादव के पुत्र यशपाल सिंह मैदान में हैं। जबकि, भाजपा से उमा भारती के करीबी राजीव सिंह चुनाव लड़ रहे हैं। यहां इन दोनों नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। 

loading...

You May Also Like

English News