यूपी फिर शर्मसार: 10 साल की बच्ची का अपहरण, दुष्कर्म के लिए दो बार बेची गई

मासूम बच्ची का अपहरण कर यमुना एक्सप्रेस-वे पर उससे दरिंदगी का दिल-दहला देने वाला सामने आया है। बच्ची का अपहरण करने के बाद उसे दो बार बेचा गया। पहले खरीदार ने बच्ची से दुष्कर्म कर उसे दूसरे आरोपित को बेच दिया था।

दूसरे खरीदारी ने भी बच्ची को दुष्कर्म करने के लिए खरीदा था। दूसरा आरोपित बच्ची को घायल हालत में यमुना एक्सप्रेस-वे पर छोड़कर फरार हो गया। लोगों ने बच्ची की पुकार सुन पुलिस को सूचना दी। मामले में ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क थाना पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को अब भी दो आरोपितों की तलाश है।

अपहरण की ये सनसनीखेज वारदात चार सितंबर को ग्रेटर नोएडा के तुगलपुर गांव से हुई थी। 10 वर्षीय बच्ची का बाइक सवार युवक ने गांव से अपहरण कर लिया था। अपहरण करने के बाद वह बच्ची को बाइक से यमुना एक्सप्रेस-वे के जीरो प्वाइंट पर ले गया। वहां उसने बच्ची को एक दूसरे बाइक सवार युवक को बेच दिया। वह दूसरा युवक बच्ची को बाइक से लेकर मथुरा के पास पहुंचा। आरोपी ने वहां पर बच्ची से दुष्कर्म किया। इस दौरान बच्ची की हालत काफी खराब हो गई।

इसके बाद उसने उस बच्ची को एक अन्य व्यक्ति को बेच दिया। दूसरे खरीदार ने भी बच्ची को दुष्कर्म करने के लिए खरीदा था। बच्ची को खरीदने के बाद वह उससे दुष्कर्म का प्रयास करने लगा। बच्ची की हालत पहले से ही खराब थी। वह दर्द से कराह रही थी। लिहाजा बच्ची ने मदद के लिए शोर मचा दिया। बच्ची की आवाज सुनकर यमुना एक्सप्रेस-वे के आसपास मौजूद लोग उसकी मदद को दौड़े।

इस दौरान उससे दुष्कर्म का प्रयास कर रहा आरोपित उसे वहीं छोड़कर भाग निकला। लोगों ने बच्ची को घायल हालत में छुड़ाकर पुलिस को सूचना दे दी। मौके पर पहुंची मथुरा पुलिस ने छानबीन की तो पता चला कि बच्ची का अपहरण ग्रेटर नोएडा से हुआ था। मथुरा पुलिस ने ग्रेटर नोएडा पुलिस को सूचना दी। इसके बाद दोनों जिलों की पुलिस बच्ची से दरिंदगी करने वालों की छानबीन में जुट गई।

यमुना एक्सप्रेस-वे के सीसीटीवी कैमरे से मिला सुराग

जांच के दौरान ग्रेटर नोएडा पुलिस ने यमुना एक्सप्रेस-वे के टोल प्लाजा पर लगे सीसीटीवी कैमरों की जांच की। जेवर टोल प्लाजा पर लगे सीसीटीवी कैमरों में बच्ची का पहला खरीदार उसे बाइक से ले जाते हुए दिख गया। सीसीटीवी में बाइक का नंबर भी स्पष्ट दिख रहा था। लिहाजा पुलिस ने बाइक नंबर के आधार पर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अभी बच्ची का अपहरण करने वाले और उसे दूसरी बार खरीदने वाले आरोपितों की तलाश कर रही है।

You May Also Like

English News