ये कैंसर हैं ‘साइलेंट किलर’, नहीं होते कोई शुरुआती लक्षण

सही समय पर अगर कैंसर का पता चल जाए तो उसका इलाज संभव है। इसके लिए समय-समय पर शरीर का चेकअप करवाते रहना चाहिए। लेकिन कुछ कैंसर ऐसे भी होते हैं जिनके शुरुआती लक्षणों का पता नहीं चल पाता। इसलिए हमेशा ही सावधानी बरतने की जरूरत होती है। आइए जानते हैं इन कैंसर के बारे में।
ये कैंसर हैं 'साइलेंट किलर', नहीं होते कोई शुरुआती लक्षण

 

प्रोस्टेट कैंसर

ये कैंसर मर्दों में पाई जाने वाली प्रोस्टेट ग्रंथियों में होता है। 50 वर्ष की आयु में इस कैंसर के होने की संभावना अधिक रहती है। डॉक्टरों का कहना है कि शुरुआत में इसका पता लगाना मुश्किल होता है क्योंकि इसमें किसी भी प्रकार के लक्षण का पता नहीं लगता। अगर परिवार में पहले कोई इस समस्या से जूझ रहा हो तो इस पर ध्यान देने की जरूरत होती है। इसके अलावा पेशाब में खून, या पीठ में अक्सर दर्द की शिकायत रहती है तो डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

 पढि़ए! इस टाफी को खाकर बनाये संबंध तो मिलेगा भरपूर आनंद

पेट का कैंसर

पेट में दर्द को लोग आम समस्या मानते हैं। लेकिन अगर आपको अक्सर ही गैस की समस्या रहती है तो ये पेट का कैंसर की वजह हो सकती है। अगर 55 साल की उम्र पार होने के बाद आपको भूख कम लगना, सीने में जलन और तेजी से वजन कम होने लगे तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

 टेस्टीकुलर कैंसर

ये कैंसर भी सिर्फ मर्दों में होता है। 20 से 45 साल की ही उम्र में इस कैंसर के होने की संभावाना रहती है। शुरुआत में इसके कोई लक्षण उभर कर नहीं आते लेकिन आज के समय में इसका इलाज संभव है।

 जानिए क्यों ? सुहागरात मेें अधिकतर जोड़े सेक्स नहीं कर पाते हैं

किडनी का कैंसर

हालांकि किडनी में होने वाले कैंसर के बारे में आपने शायद ही कभी सुना होगा। लेकिन एक रिपोर्ट के अनुसार, हर साल हजारों पुरुष और महीलाएं इस समस्या से जूझते हैं। इसके भी शुरुआती दौर में कोई लक्षण उभर कर नहीं आते। अगर कमजोरी, तेजी से वजन घटना, सर्दी-जुकाम, दर्द आदि की शिकायत रहती है तो डॉक्टर से इसकी जांच जरूर करवाएं।

 कोलन कैंसर

बड़ी आंत में होने वाले ट्यूमर की वजह से कोलन कैंसर हो सकता है। इसके लिए जरूरी है कि 50 साल की उम्र होने पर आप जरूर एक बार कोलोनोस्कोपी करवाएं। साथ ही अगर मल त्यागने पर खून आए तो उसे अनदेखा ना करें और डॉक्टर को जरूर दिखाएं। 

 

You May Also Like

English News