ये थे फिल्मी दुनिया के दो सितारे, जिन्होने एक ही दिन ली आखरी सांस…

एक्टर, डायरेक्टर और प्रोड्यूसर फिरोज खान का जन्म 24 सितंबर 1939 को बेंगलुरु में हुआ था. फ़िरोज़ को बॉलीवुड में पहला मौका साल 1960 में फिल्म ‘दीदी’ में सेकंड लीड के तौर पर मिला था. फ़िरोज़ खान को यह बात जल्द ही समझ आ गयी थी कि फिल्मी किस्मत में प्रॉड्यूसर का रोल अहम होता है. इसलिए उन्होंने वर्ष 1971 में फिल्मे प्रोड्यूस करना शुरू कर दी थी. फ़िरोज़ खान ने पहली बार फिल्म ‘अपराध’ को प्रोड्यूस किया था. इस फिल्म में जर्मनी में होने वाली कार रेसिंग के सीन भी दिखाए गए थे. फिल्म में उनके ऑपोसिट ‘मुमताज’ थीं.ये थे फिल्मी दुनिया के दो सितारे, जिन्होने एक ही दिन ली आखरी सांस...अभी-अभी: डायरेक्टर जेपी दत्ता को अभिषेक बच्चन ने दिया ते बड़ा धोखा…

क्या आपको पता है कि फिरोज खान और विनोद खन्ना बहुत अच्छे दोस्त थे. फिल्म ‘दयावान’, ‘कुर्बानी’ और ‘शंकी शंम्भू’ में दोनों साथ नजर आए थे. दिलचस्प बात तो यह है कि फिल्म ‘कुर्बानी’ में फ़िरोज़ खान निर्माता, निर्देशक और एक्टर तीनों ही भूमिका में थे. दोनों में इतनी गहरी दोस्ती थी कि इस दुनिया को उन्होंने एक ही तारीख को अलविदा कहा था. जी हाँ… 27 अप्रैल 2009 में फ़िरोज़ खान का निधन हुआ था वही 27 अप्रैल 2017 में विनोद खन्ना का निधन हो गया था.

वर्ष 1965 में फिरोज खान ने ‘सुंदरी खान’ से शादी की थी. दोनों की पहली मुलाकात एक पार्टी में हुई थी. उसके बाद दोनों ने पांच साल डेट किया था. उनके दो बच्चे हैं- लैला खान और फरदीन खान है. दोनों का रिश्ता 20 साल तक चला और वर्ष 1985 में वो अलग हो गए.

You May Also Like

English News