अभी-अभी: योगी के इस बड़े फैसले से समय से पहले की दफ्तर में…

NEW DELHI: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी की सत्ता संभालते ही कई सारे फरमान सुनाए थे, जिसमें से एक थी सभी सरकारी अफसरों के टाइम से दफ्तर पहुंचने और आम लोगों की परेशानियों को सुनने की। यही नहीं सीएम के मुताबिक जनता किसी भी अधिकारी को फोन भी कर सकते है।

योगी के

ये भी पढ़े:>  योगीराज में भी नहीं सुधर रही कानून व्यवस्था, बेटे के शव को कंधे पर ले जाने को मजबूर हुआ बाप

दफ्तर के लैंड लाइन पर सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक अधिकारी सभी का फोन उठाने के लिए तत्पर रहेंगे। यानी किसी भी सूरत में अधिकारियों को सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक ऑफिस में उपस्थित रहना होगा। इसका असर ये हुआ कि अफसर सुबह 9 बजे ही ऑफिस पहुंच जाते हैं और शाम 6 बजे तक अपनी सीट से हिलते नहीं।

आइए आपको बताते हैं किस जिले में सरकारी कर्मचारी अपने कार्यालय में मौजूद थे और कहां नहीं..

मेरठ

मेरठ की बात करें तो डीएम समीर वर्मा और एसएसपी जे रविंद्र गौड़ दोनों ही अधिकारी समय पर अपने कार्यालय में मौजूद मिले। वे अपने कार्यालय पर लोगों की समस्याएं सुन रहें थे।

कानपुर 

कानपुर में जिला अधिकारी योगी के आदेश का पालने करते दिखे। जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह 8 बजकर 55 मिनट पर दफ्तर में आ चुके थे और मुख्यमंत्री के आदेशानुसार वो जनता की समस्याएं सुन रहे थे।

आगरा

आगरा के जिला अधिकारी 9 बजे तक अपने दफ्तर से नदारद थे। बाद में जिला अधिकारी निर्धारित समय से 5 मिनट लेट दफ्तर पहुंचे।

मथुरा

मथुरा के जिलाधिकारी अरविंद मल्लपा 9 बजे अपनी सीट पर बैठे नजर आए। बता दें, उन्होंने कल ही जिलाधिकारी का चार्ज लिया है।

गोरखपुर 

गोरखपुर में डीएम और एसएसपी सीएम योगी के आदेश का पलन करते नजर आएं। गोरखपुर में DM औेर SSP समय से दफ्तर में मौजूद मिले। यहां ये लोग आम लोगों की परेशानियों को भी सुन रहे थें। वहीं, इन सब के अलावा सीटी मजिस्ट्रेट नौ बजकर 25 मिनट पर भी अपने दफ्तर में नदारद मिले।

 

You May Also Like

English News