अभी-अभी: योगी ने खोली मायावती की फाइल बड़ा सच आया सामने, अब इनको जाना पड़ेगा जेल

New Delhi : उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद से बसपा सुप्रीमो मायावती की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं।अभी-अभी: योगी ने खोली मायावती की फाइल बड़ा सच आया सामने, अब इनको जाना पड़ेगा जेलयह भी पढ़े:> OMG: बाहुबली की माँ का रोमांस करते हुए वीडियो हुआ तेजे से वायरल….

मायावती के छोटे भाई और बसपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आनंद कुमार समेत चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ है।नोएडा की सूरजपुर कोतवाली पुलिस ने यह मामला दर्ज किया है। साथ ही पुलिस ने लगभग दस अज्ञात लोगों के खिलाफ भी धमकी देने और मारपीट करने का केस दर्ज किया है। 

दरअसल पुलिस ने यह कार्रवाई नोएडा के एडिशनल न्यायिक मजिस्ट्रेट के आदेश पर की है। एडिशनल न्यायिक मजिस्ट्रेट ने मंजू शर्मा की याचिका पर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। पुलिस ने यह मामला CRPC की धारा 156 (3) के अंतर्गत दर्ज किया है। जानकारी के मुताबिक इन सब लोगों ने फ्लैट बुक कराने के एवज में 13 लाख 70 हजार रुपए हजम कर ल‍िए हैं। 

पीड़ित मंजू शर्मा पत्नी राजेंद्र कुमार शर्मा ने मायावती के भाई आनंद कुमार पर यह आरोप लगाया है कि उन्होंने खुद को एलेक्सर ब्यूलकान प्राइवेट लिमिटेड और इमपेल इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड का निदेशक बताया।

उन्होंने फ्लैट की बुकिंग के लिए हमसे उन्होंने 13 लाख 70 हजार रुपए लिए थे। आपको बता दें कि कि राजेंद्र कुमार शर्मा दिल्ली स्टेट इंडस्ट्रीयल एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कारपोरेशन में कार्यरत थे। 2014 में उनके रियाटरमेंट के बाद उन्होंने ने एक फ्लैट खरीदने का फैसला लिया। फ्लैट खरीदने के संबंध में शर्मा की मुलाकात दीपक गुप्ता से हुई। दीपक ने राजेंद्र की मुलाकात राजीव शर्मा से कराई और उसे नोएडा प्राधिकरण का कंसल्टेंट बताया।

राजीव ने राजेंद्र को सस्ते में फ्लैट दिलाने का वादा किया और मायावती के भाई आनंद कुमार का कंपनी का पाटर्नर बताया। जिसके बाद उसने नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर सेक्टर-150 में राजेंद्र शर्मा को फ्लैट दिखाया और कोरस प्रोजेक्ट में बुक करा दिया। जानकारी के मुताबिक उस फ्लैट की कुल कीमत 53 लाख 48 हजार रुपए थी। अब मंजू शर्मा ने आरोप लगाया है कि फ्लैट बुक कराने के बाद उन्हें अभी तक कब्जा नहीं दिया गया।

परेशान होकर मंजू शर्मा ने इस पूरे मामले की श‍िकायत थाने और एसएसपी से की लेक‍िन कोई कारवाई नहीं हुई। उसके बाद उन्होंने कोर्ट में मामला दर्ज कराया। जिसके बाद कोर्ट ने सुनवाई के बाद सूरजपुर कोतवाली पुलिस को मामला दर्ज करने और 7 दिन में सूचित करने का आदेश दिया। जिसके बाद पुलिस ने शुक्रवार को आनंद कुमार, दीपक गुप्ता, राजीव शर्मा और मोनिका शर्मा समेत कई लोगों पर का मामला दर्ज किया। वहीं मामले की जानकारी देते हुए सूरजपुर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनीष सक्सेना ने बताया है कि मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

आपको बता दें कि मायावती के भाई आनंद कुमार पर आय से ज्यादा संपत्ति रखने का आरोप है। इसको लेकर आयकर विभाग और ईडी जांच कर रहा है। कुमार के कम्पनियों पर आयकर विभाग लगातार छापे मार रहा है। आनंद अपनी बहन माया से छोटे हैं। जानकारी के मुताबिक आनंद कभी नोएडा में क्लर्क हुआ करते थे और 2007 से पहले आनंद की एक कंपनी थी। लेकिन 2007 में प्रदेश में बसपा सरकार बनने के बाद आनंद ने लगातार 49 कम्पनियां खोली। इस काम में बसपा नेता सतीश मिश्रा के बेटे कपिल मिश्रा ने भी आनंद का साथ दिया।

 

You May Also Like

English News