रक्षाबंधन स्पेशल : मावा कचोरी से करवाएं भाई का मुंह मीठा

रक्षाबंधन के दिन घरों में लजीज व्यंजन बनाए जाते हैं। आप भी इस दिन अपने भाई और घरवालों के लिए कुछ खास बना सकते हैं। मावा कचोरी खाने में बहुत टेस्टी लगती है। यहां पढ़ें मावा कचोरी की रेसिपी।रक्षाबंधन स्पेशल : मावा कचोरी से करवाएं भाई का मुंह मीठा

सामगी –

आटा लगाने के लिये:

मैदा – 1 कप

घी – 2 टेबल स्पून

स्टफिंग के लिये:

काजू और बादाम – 1-1 टेबल स्पून, दरदरे पीस लीजिये

मावा – 1/3 कप

छोटी इलाइची – 4 छील कर दरदरा कूट लीजिये.

पाउडर चीनी – 1/3 कप

चाशनी के लिये:

चीनी – 1 कप

गार्निश के लिए

बादाम – 4 बारीक पतले काट लीजिए

काजू – 2 छोटे छोटे कटे हुए

छोटी इलाइची – 2

घी – कचौरियां तलने के लिए

विधि –

मैदा को किसी बर्तन में निकालिए और घी डालकर अच्छी तरह मिक्स कर लीजिए, और पानी की सहायता से नरम आटा गूथिए (आटा के बहुत ज्यादा मसल मसल कर चिकना नहीं करना है, बस गूथना है), इतना आटा गूथने के लिए लगभग 1/4 कप पानी लगा है। आटे को ढककर 15-20 मिनिट के लिये रख दिजिए।

स्टफिंग बना लीजिए

मावा को क्रम्बल करके पैन में डालिये और हल्का ब्राउन होने तक भून लीजिए। काजू और बादाम का पाउडर डालकर मिला दीजिए, स्टफिंग को प्याले में निकाल लीजिए, ठंडा होने पर चीनी पाउडर और आधा इलाइची पाउडर कर मिला दीजिए. स्टफिंग तैयार हैं.

कचौरियां बनाइए

कढ़ाई में घी डालकर गरम करने के लिए रख दीजिए। इतनी देर में कचौरी का आटा भी सैट हो जाता है. आटे से छोटी छोटी लोइया तोड़कर बनाकर तैयार कर लीजिए, 9-10 लोइयां बन जाएंगी. एक लोई उठाइये और 2-2 1/2 इंच के व्यास में बेल लीजिए. बेले गई पूरी के ऊपर 1- 1 1/2 चम्मच स्टफिंग रखेंगे और आटे को चारों ओर से उठाकर स्टफिंग को बन्द कर दीजिए. भरी लोई को हथेली पर रख कर दूसरे हाथ की हथेली से इस तरह हल्के दबाव से दबाइये कि कचौरी में आकार बड़ जाय लेकिन फटे नहीं, कचौरी को 2-2 1/2 इंच के व्यास में बड़ा का तैयार कर लीजिए. सारी कचौरियां भरकर, बढ़ा कर तैयार कर लीजिए.

loading...

You May Also Like

English News