रनवर्षा से ‘मजाक’ बने ईडन पार्क का न्यूजीलैंड ने ये कहकर किया बचाव

ऑकलैंड का ईडन पार्क भले ही आलोचकों के निशाने पर हो और उसे टी-20 त्रिकोणीय सीरीज के फाइनल जैसे अंतरराष्ट्रीय मैचों के आयोजन के लायक नहीं बताया जा रहा हो, लेकिन न्यूजीलैंड क्रिकेट (एनजेडसी) ने अपने इस मैच स्थल का पूरा बचाव किया है. इस मैदान पर ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच बुधवार को टी-20 त्रिकोणीय सीरीज का खिताबी मुकाबला खेला जाएगा.रनवर्षा से 'मजाक' बने ईडन पार्क का न्यूजीलैंड ने ये कहकर किया बचाव

शुक्रवार को इस मैदान पर जबर्दस्त रन वर्षा हुई थी. इस मैच में प्रति ओवर 12.7 रन की दर से कुल 488 रन बने थे, जिसमें 32 छक्के शामिल हैं. ऑस्ट्रेलिया ने 245 रन बनाकर रिकॉर्ड लक्ष्य हासिल किया था. गलत टाइमिंग से लगाए गए कुछ शॉट के छक्के के लिए चले जाने के कारण ऑस्ट्रेलिया के कमेंटेटर जिम मैक्सवेल ने इस मैच स्थल को ‘मजाक’ करार दिया था.

ईडन पार्क मुख्य रूप से रग्बी मैदान के रूप में जाना जाता है और इसकी सीमा रेखा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के न्यूनतम 65 गज के मानदंड से छोटी है. न्यूजीलैंड क्रिकेट के मुख्य संचालन अधिकारी एंथनी क्रूमी ने कहा कि उनकी संस्था पूरी तरह से ईडन पार्क के पक्ष में है. उन्होंने रेडियो स्पोर्ट से कहा, ‘यह अनोखा मैदान है और आप इसका खंडन नहीं कर सकते, लेकिन कई क्रिकेट मैदान इस तरह के हैं.’ 

क्रूमी ने कहा, ‘हमें लगता है कि यह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कार्यक्रम में रोमांच जोड़ता है, क्योंकि खिलाड़ियों को इससे (छोटे मैदान) सामंजस्य बिठाना पड़ता है.’ उन्होंने कहा कि ईडन पार्क पर हमेशा बड़े स्कोर वाले मैच नहीं हुए तथा हाल के वर्षों में कई मैच कम स्कोर के थे, जो रोमांचक साबित हुए. क्रूमी ने कहा, ‘ऐसा नहीं है कि इस मैदान पर रोमांचक मैच नहीं हुए हों. अगर आप आंकड़ों पर गौर करोगे, तो हमेशा बड़े स्कोर वाले मैच नहीं हुए. क्रिकेट प्रेमी जब यहां आते हैं, तो उन्हें रोमांचक मैच देखने को मिलते हैं और हम इससे खुश हैं.

You May Also Like

English News