रमन सिंह सरकार ने लिखी विधानसभा में विश्वास की नई इबारत….

छत्तीसगढ़ विधानसभा में रमन सिंह सरकार ने विश्वास की नई इबारत लिखते हुए बड़ी कामयाबी हासिल की. छत्तीसगढ़ विधानसभा में कांग्रेस की ओर से सरकार के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव 19 घंटे की लगातार चर्चा के बाद शनिवार सुबह 38 के मुकाबले 48 मतों से ध्वस्त हो गया. विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि भारत 2019 में ओडीएफ और 2022 में कांग्रेस मुक्त हो जाएगा.रमन सिंह सरकार ने लिखी विधानसभा में विश्वास की नई इबारत....

मुख्यमंत्री चर्चा के दौरान भावुक हुए और कहा कि अविश्वास प्रस्ताव पर मेरा भाषण देने का मन नहीं था. झीरम में शहीदों का अपमान न तो मैं, न ही सदन का कोई सदस्य सोच सकता है. मुझ को कोई झुठला दे तो एक मिनट भी सदन का सदस्य नहीं रहना चाहूंगा. सत्ता और कुर्सी एक मिनट का काम है. सीडी कांड को लेकर भी मुख्यमंत्री ने विपक्षियों को आईना दिखाने की कोशिश की. उन्होंने कहा किसी की हत्या कर देना आसान है, लेकिन चरित्र हत्या करना, क्या राजनीति में हम इतने निम्न स्तर पर पहुंच जाएंगे. डॉ. रमन ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना की. उन्होंने कहा कि गांधी ने आजादी के बाद दो सपने देखे थे. एक कांग्रेस को खत्म करने और दूसरा स्वच्छ भारत का. मोदी उन्हीं दो सपने को पूरा करने के लिए निकल पड़े हैं.

देश 2019 तक ओडीएफ हो जाएगा और 2022 तक कांग्रेस मुक्त हो जाएगा. मोदी के सत्ता में आने के बाद 18 राज्यों में चुनाव हुआ, जिसमें सिर्फ एक राज्य में कांग्रेस की सरकार बन पाई. हिंदुस्तान के नक्शे में देखकर घबरा जाएंगे, 75 फीसदी हिस्से में कमल खिल गया है. वह दिन दूर नहीं जब कांग्रेस राष्ट्रीय दल भी नहीं होगा.

loading...

You May Also Like

English News