रविशंकर ने चिदंबरम से पूछा- 16 मई को किसके कहने पर पहुंचाया 7 कंपनियों को फायदा?

भाजपा ने एक बार फिर से कांग्रेस पर बड़ा हमला किया है. केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर आरोपों की झड़ी लगाते हुए राहुल गांधी से इस पर जवाब मांगा है. कांग्रेस पर बैंकिंग सिस्टम को दागदार करने का आरोप लगाते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि उन्होंने बीते चार साल में सिर्फ भय और भ्रम की राजनीति की है. भाजपा के खिलाफ वे लगातार दुष्प्रचार कर रही है.रविशंकर ने चिदंबरम से पूछा- 16 मई को किसके कहने पर पहुंचाया 7 कंपनियों को फायदा?

कांग्रेस जवाब दे, गीतांजलि के लिए किसने लॉबिंग की?

रविशंकर ने कहा कि 2014 में 7 कंपनियों को फायदा पहुंचाया गया. यूपीए की गोल्ड स्कीम में गीतांजलि को भी फायदा मिला. कांग्रेस जवाब दे कि गीतांजलि के लिए किसने लॉबिंग की? उन्होंने कांग्रेस से सवाल किया कि वे बताएं कि कौन है जतिन मेहता और किसने उन्हें विशेष सुविधाएं दीं. नीरव मोदी और मेहुल चोकसे पर राहुल गांधी जवाब दें. चिदंबरम की सच्चाई भी सामने आनी चाहिए.

जाते-जाते 7 कंपनियों को फायदा पहुंचाया

रविशंकर प्रसाद का कहना है कि कांग्रेस का भ्रष्टाचार यूपीए सरकार में इस कदर फैला हुआ था कि 80-20 स्कीम के तहत यूपीए सरकार ने जाते-जाते 7 प्राइवेट कंपनियों को फायदा पहुंचाया. चिदंबरम और राहुल गांधी को बताना चाहिए कि जिस दिन 16 मई 2014 को रिजल्ट आए, यूपीए सरकार जा रही थी चिदंबरम की कुर्सी हिल रही थी, उसी दिन 7 प्राइवेट कंपनियों को 80-20 के तहत क्यों फायदा पहुंचाया गया, जिसमें गीतांजलि भी थी.

रविशंकर प्रसाद का कहना कि हमारी सरकार में जितने भी लोन दिए गए, उसमें कोई भी एनपीए नहीं हुआ. जबकि यूपीए सरकार में दिए गए लोन एनपीए हुए. 2008 में 18.06 लाख करोड़ देश के बैंकों से दिया गया. यूपीए शासनकाल में और 2014 में 52.15 लाख करोड़ हुआ. मार्च 2014 में स्ट्रेस एसेट 36 प्रतिशत था, जबकि 2014 में 82 प्रतिशत स्ट्रेस ऐसट हुआ. यूपीए सरकार में बैंकों के रिकॉर्ड में सभी चीजें नहीं आने दी गईं.

बैंकिंग सिस्टम को कांग्रेस ने किया डिरेल

रविशंकर प्रसाद का आरोप है कि कांग्रेस की सच्चाई यह है कि मोदी सरकार में एक भी एनपीए नहीं हुआ, जबकि कांग्रेस ने अर्थतंत्र को तार-तार कर दिया. बैंकिंग सिस्टम को डिरेल किया गया. कांग्रेस ने बैंकिंग सिस्टम को नुकसान पहुंचाया. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मोदी सरकार में किसी भी भ्रष्टाचारी को छोड़ा नहीं जाएगा, चाहे पद और कद कितना ही बड़ा क्यों ना हो.

बीजेपी के खिलाफ भ्रम फैला रही कांग्रेस 

कांग्रेस पर हमला करते हुए रविशंकर ने कहा कि हमारे खिलाफ लगातार भ्रम फैलाया जा रहा है. बीते दिनों 13 नंबर का मोबाइल नंबर होने की अफवाह फैलाई गई. बाद में साबित हो गया कि ये बात झूठ है. वित्तीय बिल पर भी तमाम तरह की बातें की जा रही हैं, जोकि अभी प्रारंभिक अवस्था में ही है. राफेल डील का भी जिक्र करते हुए रविशंकर ने कहा कि कांग्रेस इस मुद्दे पर भी लगातार झूठ बोल रही है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी इटली से अब वापस आ गए हैं. उन्हें इन सभी मुद्दों पर जवाब देना चाहिए.

कांग्रेस सुधार विरोधी पार्टी

रविशंकर ने कहा कि कांग्रेस सुधार विरोधी पार्टी है, क्योंकि अगर सुधार होगा तो पारदर्शिता आएगी और एकाउंटेबिलिटी आएगी. इससे कांग्रेस को परेशानी होगी. कांग्रेस देश के अंदर भ्रम और भय का माहौल बनाने की कोशिश कर रही है, जिसको बीजेपी कामयाब नहीं होने देगी. बीजेपी कांग्रेस को एक्सपोज करेगी. नॉर्थ ईस्ट में भ्रम और भय के माहौल को बीजेपी ने खत्म किया.

राफेल पर सवाल करने वाले बोफोर्स के भ्रष्टाचार में डूबे

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राफेल डील को लेकर हमारे ऊपर सवाल उठाने वाली कांग्रेस खुद बोफोर्स के भ्रष्टाचार में डूबी हुई है. डोकलाम पर कांग्रेस सवाल पूछ रही थी लेकिन दूसरी तरफ राहुल गांधी चीन के अंबेसडर से मुलाकात कर रहे थे.

थर्ड फ्रंट की चर्चा पर रविशंकर ने कहा कि हर पार्टी को अधिकार है कि वो अपने विकास के लिए रणनीति तैयार करे. लेकिन असली फैसला जनता करती है. सपा-बसपा की दोस्ता के सवाल पर रविशंकर ने कहा कि मैंने मायावती जी का बयान पढ़ा है, जो बेहद दिलचस्प है.

त्रिपुरा में जीत के दूरगामी परिणाम होंगे

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय और क्षेत्रीय पार्टियां भाजपा के साथ हैं. नगालैंड में सरकार बनाने पर उन्होंने कहा कि वहां की दोनों ही प्रमुख पार्टियां भाजपा के साथ सरकार बनाना चाहती हैं. त्रिपुरा में मिली जीत पर उन्होंने कहा कि भारतीय राजनीति में इस जीत के दूरगामी परिणाम होंगे.

You May Also Like

English News