कतार में खड़ा है इंडिया, कैश के लिए परेशान हो रहे हैं लाखों लोग

गुरूनानक जयंती पर छुट्टी के बाद आज देशभर के बैंक खुले हैं। सोमवार को राजकीय अवकाश होने की वजह से 18 राज्यों में सभी बैंक बंद थे। इस वजह से लाखों लोग कैश न होने की समस्या से जूझे। उन्हें अकांउट से पैसे निकालने और पुराने नोटों को बदलने का मौका नहीं मिला।
 
कतार में खड़ा है इंडिया, कैश के लिए परेशान हो रहे हैं लाखों लोग
 
टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक दक्षिणी दिल्ली के रहने वाले अंकित गिरधर कहते हैं कि मैं साढ़े चार बजे उठकर एटीएम की लाइन में लगा रहा, लेकिन इसके बावजूद कैश नहीं मिल सका। आज हमारे पास रोजमर्रा की चीजें खरीदने के पैसे भी नहीं हैं, ऐसे में कैसे सभी बैंकों की छुट्टी को मंजूर कर दिया गया।
बैंकों की इस छुट्टी ने जहां सरकार के प्लान में रुकावट पैदा की, वहीं बाजार में नोटों का फ्लो भी रोक दिया। दिल्ली समेत कई मेट्रो शहरों के कुछ लोग पैसों की तलाश में एटीएम की लंबी लाइनों में लगे, इसके बावजूद उन्हें पैसे न मिलने की वजह से मायूस होकर घर लौटना पड़ा।

वेंकैय्या नायडू ने कहा कि कुछ बेशर्म लोग जो फायदा लेना चाहते हैं उनकी वजह से परेशानी बढ़ी है।

ये निराधार आरोप हैं कि सरकार ने कुछ लोगों को पहले सूचना दी थी: वेंकैय्या नायडू

ये कदम गरीबों की मदद और कालेधन पर लगाम लगाने के लिए उठाया गया: वेंकैय्या नायडू

प्राइवेट अस्पतालों को भी दी गई है छूट, जनता को हम रिलीफ दिलाएंगे। नोटबंदी का फैसला बेहतर है। जरूरतमंद लोग, कुछ लोगों की वजह से परेशानी झेल रहे हैं: अर्जुन मेघवाल केंद्रीय राज्यमंत्री, वित्त

पूर्व रेलमंत्री पवन बंसल के चंडीगढ़ स्थित घर पर आयकर विभाग ने छापेमारी की है।

नोट बदलने पहुंची पीएम की मोदी की मां, हीरबेन ने बैंक से 4500 रूपये बदलवाए

न्यू फ्रेन्ड्स कॉलोनी दिल्ली, सुबह से लाइनों में लगे लोग गुस्से में। कहा- इंतजाम नहीं हैं ठीक।

हैदराबाद: बैंकों के बाहर सुबह से लगी हैं लंबी लाइन, लोग हो रहे परेशान।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैय्या ने वित्त मंत्री को लिखा कि पुराने नोटों के इस्तेमाल करी समय सीमा बढ़ाई जाए

निजी अस्पतालों, पैथोलॉजी लैब्स, ब्लड बैंकों को भी पुराने नोट स्वीकार करने वाली लिस्ट में किया जाए शामिल

सिलीगुड़ी (पश्चिम बंगाल):  सुबह से बैंकों के बाहर लगी है लंबी कतारें

मुंबई: लोग लगातार लंबी लाइनों में लगे कैश निकालने की कोशिशों में जुटे हैं।

दिल्ली: भजनपुरा के रहने वाले सुनील की कल शादी है और वो रातभर से एटीएम की लाइन में लगे हैं। सुनील के मुताबिक मेरे दो और भाई भी दूसरे बैंकों में पैसा निकालने के लिए लाइन में लगे हैं।

खुले पैसे को लेकर लखीमपुर खीरी में सेल्समैन से मारपीट, सीसीटीवी में कैद हुई घटना।  

मुंबई में टैक्सी चालकों के काम पर बड़ा असर

 
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को कहा कि जहां गुरुनानक जयंती के मौके पर बैंकों की छुट्टी नहीं है, वहां पर बैंक अपनी पूरी क्षमता से काम कर रहे हैं, लेकिन ये आंकड़ा आधे से भी कम था। बैंक कुछ राज्यों में ही खुले रहे, जिनमें गुजरात, त्रिपुरा, मिजोरम, गोवा और केरल जैसे राज्य शामिल हैं।

एक्सिस बैंक के प्रवक्ता के मुताबिक नोटबंदी के बाद से हमारे सभी बैंक 18 राज्यों में ग्राहकों को बेहतर सुविधाएं देने की कोशिशों में जुटे हैं। लोग कहते हैं कि हम काम से पहले पैसे निकालने के लिए आ रहे हैं, ऐसे में हमारा काम भी प्रभावित हो रहा है।

मुंबई में टैक्सी ड्राइवर्स और ऑटोरिक्शा वालों ने शिकायत की, कि बैंकों में गुरुनानक जयंती के मौके पर छुट्टी होने से उनके काम पर काफी असर पड़ा। लोग कैश न होने की वजह से इन परिवहन के साधनों को नजरअंदाज करते नजर आए।

 

You May Also Like

English News