राक्षस पिता ने पहले बेटे को बेल्ट और लातों से बेरहमी से पिटा और फिर उठा के पटक दिया, देखे VIDEO….

कहते हैं एक बच्चे के लिए उसका पिता किसी भगवान से कम नहीं होता हैं. हर बाप चाहता हैं कि उसका बेटा पढ़े लिखे, बड़ा आदमी बने. इसके लिए पिता दिन रात मेहनत करते हैं, पैसा कमाते हैं, अपने बेटे की ख़ुशी के लिए खुद तकलीफे सहन कर लेते हैं. आसान शब्दों में कहे तो पिता कभी भी अपने बच्चे पर आंच तक नहीं आने देता हैं. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे बाप से मिलाने वाले हैं जिसने ‘पिता’ शब्द को शर्मसार कर दिया हैं. इस पिता ने अपने 10 साल के बेटे को इतनी बेरहमी से मारा हैं कि विडियो देख आपका मन भी विचलित हो जाएगा. बेटा रोता रहा, दया की भीख मांगता रहा लेकिन ये बेरहम बाप का दिल नहीं पसीजा वो उसे बेल्ट से मारता रहा. आइए विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…

हैवान बाप ने बेटे को बेरहमी से पिटा
दरअसल इन दिनों इन्टरनेट पर एक विडियो बहुत वायरल हो रहा हैं. इस विडियो में एक बाप अपने 10 साल के बेटे को बेल्ट से मारते हुए नज़र आ रहा हैं. बाप नाराज हैं कि उसके बच्चे ने उससे किसी बात पर झूठ बोला हैं. लेकिन इस छोटे से झूठ के बदले बाप अपने बेटे की ऐसे पिटाई करता हैं जैसे उसने बहुत बड़ा अपराध कर दिया हो. बेल्ट से मार खाने के बाद बच्चा बाप से बोलता भी हैं कि अब वो दुबारा झूठ नहीं बोलेगा लेकिन बाप रुकता नहीं हैं. पहले तो वो बच्चे को बेल्ट से मारता हैं और फिर उसे उठाकर बेरहमी से बार बार पटक देता हैं. लेकिन बाप का गुस्सा नहीं शांत नहीं होता हैं. इसके बाद वो बेटे को लात से मारने लगता हैं.

माँ ने बनाया विडियो
जब ये पूरी घटना हो रही थी तब बच्चे की माँ ने इसका विडियो बना लिया था. विडियो में हम बच्चे की माँ को बेरहम बाप को रोकते हुए सुन भी सकते हैं. ये मामला करीब दो महीने पहले का हैं. अभी हाल ही में महिला ने अपना मोबाइल सर्विस सेंटर पर सुधारने के लिए दिया था. उसने सर्विस सेंटर वाले से कहा था कि वो मोबाइल में से कुछ भी मिटाए नहीं. सर्विस सेंटर वाले ने गलती से ये विडियो देख लिया और इसकी सुचना एक लोकल एनजीओ को कर दी.

विडियो वायरल होने पर हुई बाप की गिरफ्तारी
इसके बाद जब ये विडियो पूरी मीडिया में वायरल होने लगा तो पुलिस भी बाप की तलाश में लग गई. जाँच में पाया गया कि विडियो में बच्चे की पिटाई करने वाला बाप पश्चिम बेंगलुरु के केंगेरी में रहने वाला 30 वर्षीय महेंद्र हैं. पुलिस ने शनिवार सुबह ही महेंद्र को हिरासत में ले लिया. बेंगलुरू पुलिस पश्चिम डिवीजन के डीसीपी के अनुसार महेंद्र नाम के पिता को किशोर न्याय कानून के तहत हिरासत में लिया गया हैं. पुलिस ने महेंद्र के ऊपर बाल न्याय अधिनियम 82 और भारतीय दंड संहिता धारा 323 और 506 के तहत धाराएं लगा कर मामला दर्ज किया हैं.

देखे विडियो

गौरतलब हैं कि देश में रोजाना कई बच्चे घरेलु हिंसा का शिकार होते हैं. अपने बच्चे की गलतियाँ सुधारने के लिए उसे थोड़ा बहुत डरना या हल्का पुल्का मारना फिर भी ठीक हैं लेकिन इस तरह से बच्चे पर बेरहमी करना और अपनी ताकत का जोर दिखाना सरासर गलत हैं.

You May Also Like

English News