राजधानी में हाई अलर्ट जारी, दिल्ली के जामा मस्जिद इलाके में छिपे तीन आतंकी

दिल्ली में तीन आतंकियों के होने की सूचना मिलते ही सुरक्षा एजेंसियों के कान खड़े हो गए हैं। गणतंत्र दिवस की तैयारियों को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने राजधानी में हाई अलर्ट जारी कर दिया है।राजधानी में हाई अलर्ट जारी, दिल्ली के जामा मस्जिद इलाके में छिपे तीन आतंकीओपी सिंह 16 जनवरी तक नहीं आए तो किसी और को डीजीपी बना सकती है योगी सरकार
सुरक्षा एजेंसियों को दिल्ली के जामा मस्जिद इलाके में तीन आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली है। इनके फोन कॉल को इंटरसेप्ट किया गया है। ये सभी आतंकी जम्मु-कश्मीर के पुलवामा से फोन पर निर्देश ले रहे हैं। 

फोन इंटरसेप्ट होते ही सुरक्षा एजेंसियों ने इसकी जानकारी दिल्ली पुलिस को दे दी है। राजधानी में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। पुलिस जामा मस्जिद इलाके की गहनता से जांच कर रही है। इलाके में पढ़ने वाले होटल-रेस्त्रां को भी खंगाला जा रहा है।

पस्तों भाषा में बात कर रहे संदिग्ध

सुरक्षा एजेंसियों ने जिन कॉल को इंटरसेप्ट किया है उसमें तीन संदिग्ध लोग जम्मू-कश्मीर के पुलवामा से कुछ खास काम करने के लिए निर्देश प्राप्त कर रहे हैं। हालांकि ये सभी बातचीत पस्तों भाषा में हो रही है। 

सुरक्षा एजेंसियों का मानना है कि ये सभी अफगानी हो सकते हैं जिन्हें पाकिस्तान में प्रशिक्षण दे कर दिल्ली में भेजा गया हो। बता दें कि दिल्ली में 26 जनवरी को होने वाले गणतंत्र दिवस परेड को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। ऐसे में आतंकी गतिविधि की सूचन मिलते ही दिल्ली पुलिस ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है। 

इससे पहले बृहस्पतिवार को दिल्ली द्वारका फ्लाइओवर के नीचे एक ब्रीफकेस रख कर भाग रहे एक संदिग्ध को पकड़ा था। सेना ने उसको अपने कब्जे में ले कर दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया।

लश्कर ए तैयबा के एक संदिग्ध को पकड़ा

बता दें कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गुजरात पुलिस की एटीएस के साथ मिलकर दिल्ली एयरपोर्ट से आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा के एक संदिग्ध को पकड़ा है। संदिग्ध को स्पेशल सेल के लोधी कॉलोनी स्थित कार्यालय ले जाया गया है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के विशेष पुलिस आयुक्त एमएम ओबरॉय का कहना है कि संदिग्ध से पूछताछ की जा रही है। देर रात तक उसकी ठीक से पहचान नहीं हो पाई थी। संदिग्ध के पकड़े जाने के बाद दिल्ली में हाईअलर्ट घोषित कर दिया गया है।

स्पेशल सेल के कुछ अधिकारियों के अनुसार, पकड़े गए संदिग्ध का नाम फिलहाल बिलाल अहमद काहवा बताया जा रहा है। गिरफ्तारी के समय वह दिल्ली से जम्मू-कश्मीर जा रहा था। संदिग्ध को वर्ष 2000 में लालकिले पर हुए आतंकी हमले का आरोपी बताया जा रहा है। 

You May Also Like

English News