राजनाथ सिंह आज से जम्मू-कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज गुरुवार को दो दिन के जम्मू-कश्मीर दौरे पर जा रहे हैं. वह अधिकारियों के साथ आतंकवादरोधी कार्रवाई रोके जाने के फैसले की समीक्षा करेंगे. इसके अलावा वे सीएम द्वारा दी जाने वाली इफ्तार पार्टी में शामिल होने के अलावा अन्य कार्यक्रमों में भी भाग लेंगे.केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज गुरुवार को दो दिन के जम्मू-कश्मीर दौरे पर जा रहे हैं. वह अधिकारियों के साथ आतंकवादरोधी कार्रवाई रोके जाने के फैसले की समीक्षा करेंगे. इसके अलावा वे सीएम द्वारा दी जाने वाली इफ्तार पार्टी में शामिल होने के अलावा अन्य कार्यक्रमों में भी भाग लेंगे.    आपको बता दें कि रमजान के दौरान सुरक्षा बलों की ओर से सैन्य अभियानों को निलंबित रखने के बावजूद वहां सुरक्षाकर्मियों पर हमले की घटनाएं बढ़ी हैं. इसलिए गृह मंत्री का राज्य के सुरक्षा हालात पर खासा जोर रहेगा. गृह मंत्री राज्यपाल एनएन वोहरा, मुख्यमंत्री महबूबा, शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक कर चर्चा करेंगे.28 जून से शुरू हो रही अमरनाथ यात्रा में आतंकी हमले की मिली इंटेलिजेंस इनपुट के बाद चिंतित गृह मंत्री इस पर भी चर्चा करेंगे.    उल्लेखनीय है कि कश्मीर जाने से पहले राजनाथ ने वार्ता के लिए नियुक्त विशेष प्रतिनिधि दिनेश्वर शर्मा समेत खुफिया विभाग के शीर्ष अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया. चर्चा में यह बात सामने आई कि घाटी में आतंकवादियों के खिलाफ चलने वाली सैन्य कार्रवाई में वहां के आम युवकों को मुख्यधारा में शामिल करने की कोशिशें विफल रही है .इसलिए गृहमंत्रालय ने युवकों के लिए योजना की नई रूपरेखा बनाई है.

आपको बता दें कि रमजान के दौरान सुरक्षा बलों की ओर से सैन्य अभियानों को निलंबित रखने के बावजूद वहां सुरक्षाकर्मियों पर हमले की घटनाएं बढ़ी हैं. इसलिए गृह मंत्री का राज्य के सुरक्षा हालात पर खासा जोर रहेगा. गृह मंत्री राज्यपाल एनएन वोहरा, मुख्यमंत्री महबूबा, शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक कर चर्चा करेंगे.28 जून से शुरू हो रही अमरनाथ यात्रा में आतंकी हमले की मिली इंटेलिजेंस इनपुट के बाद चिंतित गृह मंत्री इस पर भी चर्चा करेंगे.

उल्लेखनीय है कि कश्मीर जाने से पहले राजनाथ ने वार्ता के लिए नियुक्त विशेष प्रतिनिधि दिनेश्वर शर्मा समेत खुफिया विभाग के शीर्ष अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया. चर्चा में यह बात सामने आई कि घाटी में आतंकवादियों के खिलाफ चलने वाली सैन्य कार्रवाई में वहां के आम युवकों को मुख्यधारा में शामिल करने की कोशिशें विफल रही है .इसलिए गृहमंत्रालय ने युवकों के लिए योजना की नई रूपरेखा बनाई है.

You May Also Like

English News