बिहार के राज्यपाल राज्यपाल को देर रात ही मिल गई थी नीतीश के फैसले खबर

राज्य ब्यूरो, पटना : बिहार के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस्तीफे की भनक कल देर रात ही मिल गई थी। नतीजा उन्होंने बुधवार को कोलकाता वापस लौटने का अपना कार्यक्रम स्थगित कर दिया। राज्यपाल राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए दिल्ली में थे। वहां से सीधे कोलकाता न जाकर उन्होंने पटना में रुकते हुए कोलकाता जाने का कार्यक्रम बनाया। केसरीनाथ त्रिपाठी पश्चिम बंगाल के राज्यपाल हैं। बिहार का उनके पास अतिरिक्त प्रभार है। मंगलवार की देर शाम वे पटना पहुंचे। पहले उनका बुधवार की शाम पटना से कोलकाता लौट जाने का कार्यक्रम था, लेकिन बाद में राजनीतिक गहमागहमी को देखते हुए उन्होंने कोलकाता लौटने का अपना कार्यक्रम स्थगित कर दिया। बिहार के राज्यपाल राज्यपाल को देर रात ही मिल गई थी नीतीश के फैसले खबर

#Box Office: किसमें है कितना दम, आज देखेंगे हम, मुबारकां की कमाई होगी या चलेगी इंदु की सरकार

सूत्र बताते हैं कि राज्यपाल को आभास था कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को कोई बड़ा फैसला कर सकते हैं और हुआ भी कुछ ऐसा ही। बुधवार की शाम करीब साढ़े छह बजे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजभवन पहुंच केसरीनाथ त्रिपाठी से मुलाकात की और उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा, जिसे राज्यपाल ने स्वीकार कर लिया। सूत्रों ने बताया कि फिलहाल राज्यपाल का कोलकाता वापस लौटने का कोई कार्यक्रम नहीं। वे अब एक बार फिर नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाने के बाद ही कोलकाता वापस लौटेंगे।

भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकर अजीत डोभाल गुरुवार को पहुंच रहे हैं बीजिंग, होगी डोकलाम विवाद पर बात

राज्यपाल की तबीयत बिगड़ी, इलाज के बाद छुट्टी

राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी की तबीयत बुधवार देर शाम गड़बड़ होने के बाद उन्हें आइजीआइएमएस (इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल सांइस) में भर्ती कराया गया। वहां से दो घंटे के इलाज के बाद उन्हें राजभवन वापस लौटने की इजाजत दे दी गई।

loading...

You May Also Like

English News