रामनाथ कोविंद की जीत पर भाजपाई ने मनाया जश्न, CM बोले- बढ़ा दलितों का सम्मान…

राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतगणना के बाद जीत की घोषणा कर दी गई है। इसके साथ ही यह तय हो गया है‌ कि रामनाथ कोविंद देश के अगले राष्ट्रपति होंगे। रामनाथ कोविंद की जीत पर भाजपाई ने मनाया जश्न, CM बोले- बढ़ा दलितों का सम्मान...

भारत-पाक‌िस्तान युद्घ के हीरो वीर चक्र व‌िजेता जोशी अब नहीं रहे…

उनकी जीत की घोषणा होते ही यूपी में भाजपाई जश्न में डूब गए। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोविंद की जीत से ग्रामीण जनता व दलित वर्ग का सम्मान बढ़ा। 

लखनऊ भाजपा हेडक्वार्टर में पार्टी कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाया और एक दूसरे को मिठाई खिलाई। (कार्यकर्ताओं के साथ जश्न मनाते डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य।) 

बता दें कि कोविंद की जीत पहले से ही निश्चित थी। एनडीए के पास पहले से ही जरूरी बहुमत था। बस जीत की औपचारिक ऐलान का इंतजार था। 

भाजपा के लखनऊ के हेडक्वार्टर में जश्न मनाते भाजपाई। 

रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्ट्रपति चुने गए हैं। राष्ट्रपति चुनाव के रिटर्निंग ऑफिसर अनूप मिश्रा ने रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति चुनाव जीतने की आधिकारिक घोषणा की। रामनाथ कोविंद को कुल 702044 वोट मिले। यूपीए की उम्मीदवार मीरा कुमार को कुल 367314 वोट मिले। 

बता दें पहले दौर की गिनती में रामनाथ कोविंद को कुल 60 हजार 683 वोट और मीरा कुमार को 22 हजार 941 वोट मिले थे। इसके बाद दोपहर दो बजे मतगणना का आंकड़ा बताया गया जिसमें रामनाथ कोविंद को कुल 4,79,585 और मीरा कुमार को 2,04,594 वोट मिले। इसके साथ ही रामनाथ कोविंद की जीत तय हो गई थी। 

राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग 17 जुलाई को हुई थी, जिसमें संसद के दोनों सदनों के अलावा 31 राज्यों की विधानसभाओं में मतदान संपन्न हुआ था। जिसमें 776 सांसदों और 4,120 विधायकों को मत डालने का अधिकार था। बता दें कि निर्वाचक मंडल के कुल मतों का मूल्य 10,98,903 है। 

वोटों की गिनती को समझा जाए तो ज्यादा वोट हासिल करने वाला प्रेसिडेंट नहीं बन पाता, बल्कि वो उम्मीदवार जीतता है, जो सांसदों और विधायकों के वोटों का कुल आधा वेटेज या उससे ज्यादा हिस्सा हासिल कर ले। (जश्न में डूबे भाजपा कार्यकर्ता)

 

loading...

You May Also Like

English News