राममंदिर मुद्दे पर शिवसेना ने BJP को फिर घेरा

लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर सहयोगी शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर एक बार फिर कड़ा प्रहार किया है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी से सवाल किया कि केंद्र की भाजपा नीत सरकार अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए उस तरह से एक तत्काल निर्णय क्यों नहीं लेती है जिस तरह से उसने नोटबंदी के मामले में फैसला किया था. लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर सहयोगी शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर एक बार फिर कड़ा प्रहार किया है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी से सवाल किया कि केंद्र की भाजपा नीत सरकार अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए उस तरह से एक तत्काल निर्णय क्यों नहीं लेती है जिस तरह से उसने नोटबंदी के मामले में फैसला किया था.      यहाँ पर ठाकरे ने पार्टी नेताओं की एक बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘बीजेपी चुनाव से पहले राम मंदिर निर्माण, समान नागरिक संहिता और जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाने की बात करते हैं लेकिन किस चुनाव में यह सब संभव होगा 2019 या 2050 इस बात का खुलासा नहीं करते.’’     उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘‘ भाजपा सरकार ने जिस तरह से नोटबंदी का तुरंत निर्णय किया, आप राम मंदिर निर्माण का भी तत्काल निर्णय कर सकते हैं क्योंकि आपके पास बहुमत है.’’ ठाकरे ने आगे  कहा कि अभी तक भाजपा का एजेंडा विकास था लेकिन अब उसका स्थान राम मंदिर मुद्दे ने ले लिया है.  इसी बीच ठाकरे ने बीजेपी पर यह भी आरोप लगाया कि महाराष्ट्र सरकार की ओर से पिछले साल घोषित ऋण माफी का लाभ किसानों तक नहीं पहुंच पाया है.

यहाँ पर ठाकरे ने पार्टी नेताओं की एक बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘बीजेपी चुनाव से पहले राम मंदिर निर्माण, समान नागरिक संहिता और जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाने की बात करते हैं लेकिन किस चुनाव में यह सब संभव होगा 2019 या 2050 इस बात का खुलासा नहीं करते.’’

उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘‘ भाजपा सरकार ने जिस तरह से नोटबंदी का तुरंत निर्णय किया, आप राम मंदिर निर्माण का भी तत्काल निर्णय कर सकते हैं क्योंकि आपके पास बहुमत है.’’ ठाकरे ने आगे  कहा कि अभी तक भाजपा का एजेंडा विकास था लेकिन अब उसका स्थान राम मंदिर मुद्दे ने ले लिया है.  इसी बीच ठाकरे ने बीजेपी पर यह भी आरोप लगाया कि महाराष्ट्र सरकार की ओर से पिछले साल घोषित ऋण माफी का लाभ किसानों तक नहीं पहुंच पाया है.

You May Also Like

English News