राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पूर्व NSA फ्लिन के खिलाफ जांच बंद करने के लिए कहा था: कोमी

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के निजी वकील ने कहा कि ट्रंप एफबीआई के पूर्व निदेशक जेम्स कोमी की कांग्रेस के समक्ष गवाही के बाद खुद को पूरी तरह दोषमुक्त महसूस कर रहे हैं. बुधवार को कोमी ने सात पन्नों में अपनी गवाही पेश की, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि राष्ट्रपति ट्रंप ने उनसे निष्ठा की प्रतिज्ञा लेने और पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार माइकल फ्लिन के खिलाफ जांच को बंद करने के लिए कहा था. कोमी ने यह भी कहा कि उन्होंने ट्रंप को यह भी सूचना दी थी कि वह एफबीआई की जांच के दायरे में नहीं है.राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पूर्व NSA फ्लिन के खिलाफ जांच बंद करने के लिए कहा था: कोमीअभी अभी: आतंकी हमलों की लगातार मार झेल रहे ब्रिटेन में वोटिंग शुरू

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूसी दखल के आरोपों की जांच में ट्रंप के वकील मार्क कासोविट्ज ने एक बयान जारी करके कहा कि ट्रंप खुद को पूरी तरह दोषमुक्त महसूस कर रहे हैं और वह अपने एजेंडे के साथ आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हैं. हालांकि पिछले माह ट्रंप की ओर से निकाले गए कोमी ने ताजा बयान देकर एक बार फिर से विवाद को तूल दे दिया है. मामले के जानकार इसे न्याय के लिए बाधा के तौर पर देख रहे हैं. कोमी के मुताबिक ट्रंप ने गोपनीय सूचनाओं के लीक से होने वाली समस्याओं पर लंबी बातचीत भी की थी.

कोमी ने 27 जनवरी को व्हाइट हाउस ग्रीन रूम में अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ रात्रि भोज पर हुई बातचीत का ब्योरा दिया. कोमी ने बताया कि ट्रंप ने उनसे कहा था कि वह निष्ठा चाहते हैं और इसकी उम्मीद करते हैं. कोमी ने कहा, ‘इस पर मैं न तो हिला, न बोला और न ही मैंने अपने चेहरे के भावों को बदला. हम बस खामोशी के साथ एक-दूसरे को देखते रहे. पूर्व निदेशक ने कहा कि उन्होंने फ्लिन पर ट्रंप के अनुरोध को बेहद चिंतित करने वाला माना, लेकिन इस मामले को बेहद निजी रखने का निर्णय किया था.

You May Also Like

English News