राहुल पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ने किया पलटवार, कहा- विफल वंशवादी, उठा रहे हैं सोनिया पर ही सवाल

अमेरिका में दिए गए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बयान पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी पर तंज करना राहुल के लिए कोई नई बात नहीं है.राहुल पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ने किया पलटवार, कहा- विफल वंशवादी, उठा रहे हैं सोनिया पर ही सवालप्रद्युम्न हत्याकांड: सरकार CBI जांच के लिए है तैयार, CM ने की परिजनों से बातचीत….

स्मृति ने कहा, ‘पीएम पर तंज कसना राहुल जी के लिए नई बात नहीं. लेकिन ये भी अपने आप में उनकी फेल स्ट्रैटेजी का प्रतीक है. जिस देश में वो एक राजनीतिक पार्टी का नेतृत्व करते हैं, उस देश के नागरिकों द्वारा उनके इस कथन का समर्थन न प्राप्त होने के बाद वे अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पीड़ा व्यक्त कर रहे हैं’.

केंद्रीय मंत्री ने ये भी कहा कि राहुल भूल गए हैं वो वोटर भारतीय नागरिक हैं. राहुल भूल गए हैं कि 2014 में पीएम को वोटरों ने चुना है, उन पर विश्वास व्यक्त किया है.

कांग्रेस की गलतियों पर भी टिप्पणी

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी के कांग्रेस की गलतियों को लेकर दिए गए बयान पर टिप्पणी की. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस की आलोचना कर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल सोनिया गांधी पर ही सवाल उठा रहे हैं’.

राहुल विफल वंशवादी

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी के वंशवाद को लेकर दिए गए बयान पर भी टिप्पणी की. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस उपाध्यक्ष विफल वंशवादी हैं’.

पार्टी अहंकार पर दिया था ये बयान 

राहुल गांधी ने मंगलवार को अमेरिका में यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में युवा छात्रों के साथ संवाद के दौरान कहा था कि सत्ता में आने पर किसी भी दल को अहंकार नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘2012 में कांग्रेस पार्टी में अहंकार घर कर गया था’.

वंशवाद पर दिया था ये बयान

राहुल ने वंशवाद पर कहा था कि हमारा देश परिवारवाद से ही चलता है. उन्होंने कहा, ‘परिवारवाद पर हमारी पार्टी पर निशाना न साधें, हमारा देश इसी तरह काम करता है. अखिलेश यादव, एमके स्टालिन, अभिषेक बच्चन कई तरह के उदाहरण हैं. इसमें मैं कुछ नहीं कर सकता हूं. मुकेश अंबानी के बाद अब इंफोसिस में भी ये चीज़ दिख रही है’.

किरण रिजिजू ने भी की आलोचना

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने तीखा हमला बोलते हुए कहा कि राहुल गांधी किसी और की लिखी हुई स्क्रिप्ट को विदेश में पढ़कर भारत का नाम  खराब कर रहे हैं.

loading...

You May Also Like

English News