रिकॉर्ड की सीरीज: कुछ इस तरह सचिन को पीछे छोड़ सकते हैं विराट कोहली

भारत और श्रीलंका के बीच छह महीने के अंदर दूसरी बार सामना होने जा रहा है। पिछली सीरीज में उसके घर में 3-0 से लंका का सूपड़ा साफ करने वाली टीम इंडिया का आत्मविश्वास बढ़ा हुआ है। वहीं भारत के खिलाफ हार के बाद पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 2-0 जीत हासिल करने वाली श्रीलंकाई टीम भारतीय सरजमीं पर शानदार प्रदर्शन करने को तैयार है। इस दौरान कई बड़े रिकॉर्ड बन सकते हैं आईए इनपर नजर डालते हैं। रिकॉर्ड की सीरीज: कुछ इस तरह सचिन को पीछे छोड़ सकते हैं विराट कोहली धोनी ने फ्लाइट में फैंस से बचने के लिए अपनाया कुछ ऐसा तरीका…

साल 2017 में लगातार आठ सीरीज जीत चुकी टीम इंडिया के पास एक और सीरीज जीतकर नौ सीरीज जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी करने का मौका रहेगा। पिछले वर्ष भी टीम इंडिया ने लगातार आठ टेस्ट मैच जीते थे। टेस्ट में नंबर एक रैंकिंग की टीम ने 2014-15 में ऑस्ट्रेलिया दौरे में मिली 0-2 की हार के बाद कोई सीरीज नहीं गंवाई है। श्रीलंका के खिलाफ पिछली सीरीज में भारत ने उसके मैदानों पर क्लीन स्वीप किया था।  

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के पास इस सीरीज में सबसे तेज पांच हजार रन पूरे करने वाले भारतीय बल्लेबाज होने का मौका है। कोहली ने अब तक खेले 60 टेस्ट में 4658 रन बनाए हैं। वह टेस्ट में पांच हजार के आंकड़े से महज 342 रन दूर हैं। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने 67 टेस्ट में ये उपलब्धि हासिल की थी।  

विराट कोहली इस सीरीज में कप्तानी के मामले में भी धोनी के बाद भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान हो सकते हैं। कोहली ने अब तक अपनी कप्तानी में खेले गए 29 टेस्ट मैचों में 19 जीते हैं जबकि सौरव गांगुली ने 49 मैचों में 21 जीत अपने नाम की थी। अगर भारतीय टीम इस सीरीज में क्लीन स्वीप करने में सफल रहती है तो कप्तान कोहली के खाते में 22 जीत आ जाएंगी। कप्तान के रूप में धोनी ने 60 मैचों में 27 जीत दर्ज की हैं।

टेस्ट सीरीज के लिए टीम में वापसी कर रहे स्पिनर रविचंद्रन अश्विन अपने 300 विकेट से महज 8 शिकार दूर हैं। उन्होंने अब तक 52 मैचों में 292 विकेट लिए हैं। यदि वह इस सीरीज में तीन सौ विकेट पूरा करते हैं तो ऑस्ट्रेलिया के डेनिस लिली के सबसे तेज तीन सौ विकेट लेने का रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं। लिली ने 56 मैचों में ये उपलब्धि हासिल की थी। जबकि सबसे तेज 300विकेट लेने का भारतीय रिकॉर्ड अनिल कुंबले के नाम दर्ज है। उन्होंने 66 टेस्ट में 300 टेस्ट विकेट पूरे किए थे। 

टीम इंडिया सीरीज में 3-0 से जीत हासिल करती है। तो वह अपनी सरजमीं पर जीत का सैकड़ा पूरा करने वाली दुनिया की तीसरी टीम बन जाएगी। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ये कारनामा कर चुकी हैं। ऑस्ट्रेलिया ने अपनी धरती पर सबसे ज्यादा 234 और इंग्लैंड ने 212 टेस्ट जीते हैं। टीम इंडिया ने अब तक अपनी सरजमीं पर 261 टेस्ट खेले हैं जिनमें से 97 में उसे जीत और 52 में हार मिली है जबकि 111 मैच ड्रा हुए हैं और एक मैच टाई टाई रहा है।  

यदि टीम इंडिया सीरीज में 2 टेस्ट जीत हासिल कर लेती है तो विराट टेस्ट क्रिकेट में 20 या उससे ज्यादा जीत हासिल करने वाले दुनिया के 19वें कप्तान भी बन जाएंगे। टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा जीत हासिल करने का रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीह्म स्मिथ के नाम दर्ज है। स्मिथ ने 109 टेस्ट में 53 में जीत हासिल की है। विराट को इस जीत के रिकॉर्ड तक पहुंचने के लिए लंबा रास्ता तय करना होगा।

You May Also Like

English News