रिजर्व बैंक ने नोटबंदी पर लिए 5 अहम फैसले

रिजर्व बैंक ने 8 NOVEMBER को 500, 1000 के नोटो को गैरकानूनी घोषित कर दिया था। इस फैसले के बाद सरकार जमीनी दिक्कतोंको देखते हुए आए दिन नए फैसले ले रही है और पुराने फैसले बदल रही है। जानिए सोमवार, 21 नवंबर को रिजर्व बैंक से जारी नए फैसले और निर्देश के साथ-साथ बीते दिनों नोटबंदी पर पूरा अपडेटreserve_bank

 
1. 500 की नोट से बीज खरीद सकते हैं किसान
 
सरकार ने निजी और सार्वजनिक उपक्रम केन्द्रों से किसानों को बीज खरीदने के लिये पुराने 500 रुपए का नोट चलाने की अनुमति दे दी है।
 
2. नकली नहीं हैं 10 रुपए के सिक्के
 
रिजर्व बैंक ने दस रुपए के नकली सिक्के के परिचालन में होने की झूठी अफवाह को खारिज किया है। रिजर्व बैंक ने लागों से ऐसी झूठी अफवाहों पर ध्यान नहीं देने को कहा है। केंद्रीय बैंक ने लोगों को सभी प्रकार के सौदों में बिना किसी झिझक के इन सिक्कों को स्वीकार करने को कहा है।
 
3. एटीएम से निसी पर नया निर्देश
 
उन एटीएम में जहां 2000 रुपए के नए नोट उपलब्ध हैं, ग्राहक 2500 रुपए तक निकाल सकता है। वहीं जिन एटीएम में सिर्फ 100 और 50 की नोट उपलब्ध हैं वहां से सिर्फ 2000 रुपए प्रतिदिन निकाले जा सकते हैं।
 
4. कारोबारियों को सहूलियत
 
करेंट अकाउंट की तर्ज पर अब ओवरड्राफ्ट और कैश क्रेडिट अकाउंट से भी कारोबारी प्रति सप्ताह 50,000 रुपए तक कैश निकाल सकते हैं। यह रकम 2000 रुपए की करेंसी में दी जाने की प्राथमिकता है। रिजर्व बैंक ने पुराने बड़े नोटों को चलन से हटाने के मद्देनजर बैंकों के पुराने फंसे कर्ज वर्गीकरण के नियमों में फेरबदल किया।
 
5. छोटे कर्जदारों को ईएमआई देने में छूट
 
रिजर्व बैंक ने देश में छोटे कर्जदारों को 1 नवंबर 2016 और 1 दिसंबर 2016 को अदा की जाने वाली ईएमआई के लिए 60 अतिरिक्त दिनों का समय दिया है। यह छूट बैंकों से लिए गए एक करोड़ रुपए से कम कर्ज पर मिलेगी।
 
 करेंसी की अदला-बदली
 
रिजर्व बैंक ने कहा कि 10 नवंबर के बाद से अब तक बैंकों के काउंटर और एटीएम के जरिये 1.03 लाख करोड़ रुपए की नकदी निकाली जा चुकी है। नोटबंदी के बाद से लोगों ने बैंकों में 5.11 लाख करोड़ रुपए जमा कराए हैं जबकि 10 नवंबर से 33 हजार करोड़ रुपए के नोट बदले गये हैं।

You May Also Like

English News