रिटायमेंट के बाद वफादार कुत्तों को गोली मारदेती है भारतीय सेना

पूरी दुनिया कहती है कि सबसे वफादार जानवर कुत्ता ही होता है इसे पूरी दुनिया कहती ही नही बल्कि इसे पालती भी है,आपको लगता होगा कुत्ते को सिर्फ भारत।मे ही पालते है तो ये गलत बाते है कुत्ते को पूरी दुनिया पालती है लगभग लगभग हरेक देश।मे मौजूद है कुत्ते,आपने आए दिन पढ़ते और सुनते ही होंगे|

जानिए क्यों रिटायमेंट के बाद वफादार कुत्तों को मारदेती है भारतीय सेनाकि कुत्ते वफादार के साथ साथ चतुर चालाक भी होते है और साथ ही साथ मे वो भारतीय सेनावो के साथ बोडर पर भी तैनात है जो देश के रक्षा में लगे हुए है  मगर हम बोले कि इन्ही वफादारों कुत्ते की रिटायमेंट उनकी जिंदगी की आखिरी पल होता है, तो आप इन्ह बातो पर विस्वास नही करेंगे मगरये सच्च है चलिए विस्तार सर जानते है पूरा मामला।

दरशल आपको बता दे कि एक आरटीआई से ये बात खुलकर सामने आई है कि इंडिन आर्मी के रिटायरमेंट के बाद अपने सबसे वफादार कुत्तो को भी गोली मार देती है यानी उनको मार देती है। दरअसल आपको बता दे इंडियन आर्मी के अनुसार माने तो रिटायरमेंट के बाद वो वफ़ादार कुत्ता किसी गलत आदमी के हाथ न लग जाए जिसके वजह से भारत देश को यानि भारतीय आर्मी से जुड़ी सुरक्षा को कोई बड़ी हानि न हो कोई घटना न घटे । दरशल आर्मी कुत्तो को भारतीय सेना के करीबन करीबन सभी गुप्त स्थान उनको काफी अच्छी तरह से पता होते है जो कुत्तों को ट्रेनिंग देते के वक़्त बताये अथवा सिखाई जाते है ।

खबर के माने तो आर्मी के ट्रेनिंग के वक्त कुत्तों को वो हर चीझ से वाकित कराया जाता है जो कि एक जवान को ट्रेडिंग में दिखाया जाता है ,अगर येही कुत्ता किसी गलत इंसान के हाथ मे चले जाएं तो देश को काफी खतरा हो सकता है,इस लिए भारतीय सेना कुत्तों को रिटायरमेंट के बाद मार देती है।

You May Also Like

English News