पहली तिमाही के शानदार नतीजे, रिलायंस इंडस्ट्रीज को 9079 करोड़ का मुनाफा

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने पहली तिमाही के शानदार नतीजे पेश किए हैं। कंपनी का न सिर्फ मुनाफा बढ़ा है बल्कि पेटकेम बिजनेस में शानदार प्रदर्शन करते हुए कंपनी ने जीआरएम में भी शानदार बढ़त दिखाई है। इतना ही नहीं रिलायंस ने रिटेल और टेलीकॉम बिजनेस में भी शानदार प्रदर्शन किया है।

पहली तिमाही के शानदार नतीजे, रिलायंस इंडस्ट्रीज को 9079 करोड़ का मुनाफा

पहली तिमाही में रिलायंसज इंडस्ट्री का कंसोलिडेटेड मुनाफा 12.7 फीसदी बढ़कर 9079 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही मे रिलायंस इंडस्ट्रीज का कंसोलिडेटेड मुनाफा 8053 करोड़ रुपये रहा था।

वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंसोलिडेटेड आय 2.5 फीसदी घटकर 90537 करोड़ रुपये हो गई है। पहली तिमाही में कंपनी को 1087 करोड़ करोड़ रुपये की एकमुश्त आय हुई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंसोलिडेटेड आय 92889 करोड़ रुपये रही थी।

भारत और चीन के बीच डोकलाम विवाद की आग को हवा देने की कोशिश में लगा ‘पकिस्तान’

वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की पेट्रोकेमिकल कारोबार से होने वाली कंसोलिडेटेड आय 25461 करोड़ रुपये  रुपये रही है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज की पेट्रोकेमिकल कारोबार से होने वाली कंसोलिडेटेड आय 26478 करोड़ रुपये रही थी।

वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का कंसोलिडेटेड पेटकेम एबिट 4031 करोड़ रुपये रहा है। पहली तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का कंसोलिडेटेड रिफाइनिंग एबिट 7476 करोड़ रुपये रहा है।

73 करोड़ की फॉरेन करंसी के नुकसान का आरोप, एन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट ने शाहरुख खान को भेजा नोटिस

तिमाही आधार पर पहली तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन 11.50 डॉलर प्रति डॉलर से बढ़कर 11.90 डॉलर प्रति बैरल रहा है। वहीं सिंगापुर जीआरएम 6.40 डॉलर प्रति बैरल पर बरकरार रहा है।

बालाजी टेली 164 रुपये प्रति शेयर की दर से रिलायंस इंडस्ट्रीज को प्रिफरेंशियल बेसिस पर 2.5 करोड़ शेयर (24.9 फीसद) बेचेगी। रिलायंस इंडस्ट्रीज इस हिस्सेदारी की खरीद पर 403 करोड़ रुपये खर्च करेगी। बालाजी टेली के बोर्ड में आरआईएल के 2 सदस्य होंगे।

इस मौके पर रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि रिफाइनिंग, पेट्रोकेम से कंपनी की आय में मदद मिली है। पहली तिमाही में कंपनी का कंसोलीडेटेड मुनाफा सालाना आधार पर 28 फीसदी बढ़कर 9108 करोड. रुपये रहा है। कंपनी का एक और तिमाही में मजबूत प्रदर्शन देखने को मिला है। उन्होंने आगे कहा कि जियो ने टेलीकॉम सेक्टर में क्रांति ला दी है। पहली तिमाही में कंपनी के रिटेल कारोबार में सालाना आधार पर 74 फीसदी की शानदार बढ़त देखने को मिली है।

किसे कितने वोट मिले और चुनावी जीत के बाद भावुक होकर क्या बोले कोविंद?

मुकेश अंबानी ने आगे कहा कि डिजिटल सेवा का मकसद जीवन सरल, सुरक्षित बनाना है। पिछले 40 वर्षों से कंपनी का ग्रोथ का सिलसिला जारी है, पिछले 3-4 साल से नए निवेश पर जोर दिया गया है। आगे भी शेयरधारकों को बेहतर रिटर्न देते रहेंगे।

You May Also Like

English News