रिश्ते में गहरे प्रेम की निशानी होते हैं ये 5 तरह के झगड़े…

आमतौर पर रिश्ते में लड़ाई-झगड़े को गलत माना जाता है. लेकिन रिश्ते में नोक-झोंक होना या किसी बात पर दोनों पार्टनर्स का सहमत ना होना स्वाभाविक होता है. ऐसे में अगर थोड़ी बहुत नोक-झोंक होती है तो यह अच्छे रिश्ते का संकेत है. हम बता रहे हैं 6 तरह के वे झगड़े जो प्रगाढ़ प्रेम की निशानी है.रिश्ते में गहरे प्रेम की निशानी होते हैं ये 5 तरह के झगड़े...

रिश्ते में कम हो रही गर्मजोशी को लेकर-

अक्सर होता है कि शुरुआत में हम अपने पार्टनर को समय देते हैं, प्यार और सरप्राइज देते हैं. लेकिन धीरे-धीरे ये चीजें कम हो जाती हैं और रिश्ता बोरिंग होने लग जाता है. ऐसे में आपको पार्टनर से सुनना पड़ता है कि ‘अब तुम पहले जैसे नहीं रहे.’ आप दलील देते हैं कि ‘काम बढ़ गया है’ इत्यादि. कई बार इस पर नोक-झोंक होती है. ये नोक-झोंक जरूरी होती है क्योंकि रिश्ते के साथ जो जिम्मेदारी आती है उससे आप भाग नहीं सकते. इसलिए बेहतर यही होगा कि कुछ इश्क कीजिए कुछ काम कीजिए.

घरवालों को लेकर-

कई बार टांग खिंचाई के लिए आपका पार्टनर आपके घर वालों की ऐक्टिंग करता है. ऐसे में गुस्सा होना लाजमी है. आप भी जवाब में उसके घर वालों की ऐक्टिंग करती हैं. दोनों एक दूसरे को चिढ़ाते हैं. ये बोरियत भगाने का मजेदार तरीका है. हालांकि इस बात का पूरा ध्यान रखें कि इसे एक सीमा के भीतर ही करें किसी के मन को चोट नहीं पहुंचनी चाहिए अन्यथा रिश्ते में समस्या भी आ सकती है.

पर्सनल स्पेस को लेकर-

जीवन में हर व्यक्ति को पर्सनल स्पेस की जरूरत होती है. कई बार मन खिन्न होता है और किसी से भी बात करने का मन नहीं करता है. चाहे वह पार्टनर ही क्यों ना हो. ऐसे में पार्टनर का आपके पर्सनल स्पेस को डिस्टर्ब करना आपको खराब लगता है. आप दोनों की लड़ाई होती है. लेकिन इसमें कुछ गलत नहीं है. अगर आपका मन कुछ समय अकेले रहने का है तो पार्टनर का मन आपको परेशान करने का. ऐसी नोक-झोंक में आप अक्सर चिंता/दुख भूल जाते हैं. वैसे मूड बिल्कुल ठीक ना हो तो थोड़े समय के लिए पार्टनर को अकेला छोड़ देना चाहिए. बाद में आप उन्हें ‘परेशान’ कर सकते हैं. 

पैसे को लेकर-

पैसे रिश्ते में बहुत जरूरी होता है. अगर आपका पार्टनर फिजूलखर्च कर रहा है तो उसे टोकना आपका फर्ज बनता है. लेकिन कई बार जो चीजें आपको फिजूलखर्ची लगती हैं वे पार्टनर को जरूरी लगती है. ऐसे में नोक-झोंक होती है. लेकिन जिस नोक-झोंक से थोड़े पैसे बच जाएं वो जाहिरतौर पर एक अच्छे रिश्ते की निशानी है. हालांकि बेमतलब टोका-टाकी से रिश्ते में दरार भी पड़ सकती है.

सामाजिक जीवन के लिए-

कहने को तो अपने हमसफर में ही आप दुनिया देखते हैं लेकिन सामाजिक जीवन की अहमियत को नकारा नहीं जा सकता है. रिश्ते में दोनों को अपना-अपना सामाजिक जीवन जीने का अधिकार होना चाहिए. दोस्तों से मिलना, साथियों की पार्टी में जाने पर लड़ाई होना स्वाभाविक है. यह दिखाता है कि आप दोनों को एक दूसरे से प्यार है, और आप उसके प्यार को किसी दोस्त के साथ नहीं बंटने देना चाहते.    

You May Also Like

English News