रेत माफिया का आतंक: ड्राइवर ने जान जोखिम में डालकर बचाई महिला अफसर की जिंदगी

मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार भले ही खनन और रेत माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का दावा कर रहे है, लेकिन माफिया सरकारी अमले पर हमला करने से नहीं चूक रहे हैं.

ताजा मामला होशंगाबाद जिले का है. जहां पिपरिया में तहसीलदार विंकी वाघमारे मोहारी गांव में अवैध रेत खनन की शिकायत पर कार्रवाई करने के लिए पहुंची थी.

तहसीलदार के साथ चार पटवारी और एक होमगार्ड का जवान मौजूद था. उनके दल ने संघाई गांव में रेत का अवैध परिवहन कर रहे एक ट्रैक्टर को चैकिंग के दौरान पकड़ लिया. कार्रवाई से बौखलाए ट्रैक्टर मालिक और उसके साथी तहसीलदार को मारने के लिए फावड़ा हाथ में लेकर दौड़े.

केंद्रीय रक्षा मंत्री बनाए जाने के सवाल पर शिवराज ने दिया ये जवाब

इस दौरान तहसीलदार के ड्राइवर जब्बार खान ने अपनी जान जोखिम में डालकर उन्हें रोकने की कोशिश तो माफियाओं ने उसका ही सिर फोड़ दिया. इसके बाद तहसीलदार और पटवारियों ने किसी तरह अपनी जान बचाई और ड्राइवर को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया.

होशंगाबाद पुलिस ने ड्राइवर पर हुए हमले के मामले में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. अभी किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

You May Also Like

English News