रेप का विरोध करने पर की गयी थी किशोरी की हत्या

लखनऊ : बीकेटी के कठवारा गांव की रहने वाली 17 साल की किशोरी की हत्या दुराचार का विरोध करने पर गयी थी। वारदात में शामिल दो आरोपियों को बीकेटी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया एक आरोपी किशोरी के गांव का है,जबकि दूसरा आरोपी पड़ोस के गांव का है।
इंस्पेक्टर बीकेटी विजय शंकर यादव ने बताया कि बीते 14 जुलाई को कठवारा गांव की रहने वाले 17 साल की किशोरी की गला दबाकर हत्या कर दी गयी थी। किशोरी का शव गांव में ट्यूबवेल के पास झाडिय़ों में पड़ा मिला था। इस मामले में छानबीन कर रही पुलिस को पहले ही गांव के ही युवकों पर शक था।

छानबीन के दौरान पुलिस को इस बात का पता चला कि 14 जुलाई की शाम गांव का रहने वाला गुलाब कुमार और खेरवा गांव निवासी काशीराम ट्यूबवेल पर मौजूद थे। इस बात का पता चलने पर बीकेटी पुलिस ने सोमवार की रात आरोपी गुलाब कुमार चनवातारा मोड़ व काशीराम को उसके घर से पकड़ा। पूछताछ की गयी तो दोनों ने किशोरी की हत्या करने की बात कबूली। आरोपियों ने बताया कि 14 जुलाई की शाम किशोरी ट्यूबवेल पर पानी भरने के लिए आयी थी।

किशोरी को अकेला देख दोनों की नियत खराब हो गयी और दोनों ने किशोरी को पकड़ लिया और दुराचार करने की कोशिश की। किशोरी ने गुलाब कुमार को पहचान लिया और उसकी शिकायत गांव में करने की बात कही। खुद को फंसता देख गुलाब व उसके साथी काशीराम ने किशोरी के ही दुपट्टïे से उसकी गला कसकर हत्या कर दी।

इसके बाद दोनों ने उसके शव को पास में ही झाडिय़ों में फेंक दिया। आरोपियों ने किशोरी की पानी की बोतल, बाल में लगाने वाला जूड़ा और चप्पल कुछ दूरी पर फेंक दी थी। पुलिस ने घटना के बाद किशोरी का सारा सामान बरामद कर लिया था।

You May Also Like

English News