रेस्टोरेंट में खाना खाने पहुँचा शख्स, लौटा तो ऐसा पाया खुद को

कई बार हमे ख़ुशी के मौके पर बाहर खाना खाने का प्लान बनाते हैं और कई बार मूड भी हो जाता है कि हम बाहर खा लेते हैं. लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि कोई चीज़ें हमें सूट नहीं करती और हमें उसके बारे में बाद में पता चलता है. ऐसा ही एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जायेंगे. आइये आपको भी बता देते हैं.कई बार हमे ख़ुशी के मौके पर बाहर खाना खाने का प्लान बनाते हैं और कई बार मूड भी हो जाता है कि हम बाहर खा लेते हैं. लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि कोई चीज़ें हमें सूट नहीं करती और हमें उसके बारे में बाद में पता चलता है. ऐसा ही एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जायेंगे. आइये आपको भी बता देते हैं.  Video: बुजुर्ग दम्पति ने ऐसा काम कर उड़ाए सबके होश  दरअसल, ये मामला दक्षिण कोरिया का है जहां पर एक शख्स को बाहर खाना महंगा पड़ गया. 71 वर्षीय ये शख्स जब एक रेस्टोरेंट में खाना खाने गया लेकिन जब घर आया तो कुछ घंटों बाद उसकी हालत खराब थी  जिसे देखकर वो भी हैरान था. घर लौटने के 12 घंटे बाद उसके हाथ की चमड़ी जैसे सड़ने लगी और देखते ही देखते उसके हाथ पर फोड़े पड़ गए जिससे उसे असहनीय दर्द होने लगा. इस फोड़े से उसकी चमड़ी भी सड़ने लगी. इसी को देखते हुए उसने डॉक्टर को दिखाया जो पता चला कि मांस खाने वाले बैक्टेरिया विब्रियो की वजह से ऐसा हुआ है, डॉक्टर ने उसके हाथ से पस निकाला लेकिन डॉक्टर ने बताया तब तक बहुत देर हो चुकी थी.  Video: यहाँ तभी जाना जब जीवन बीमा करवा लो  डॉक्टर ने बताया वो शख्स मधुमेह से पीड़ित था और उसे किडनी की बीमारी भी थी जिससे वो डायलिसिस पर था. डॉक्टरों ने उसे इंट्रावेनस एंटीबायोटिक्स दिया. आपको बता दें, ऐसी हालत में मधुमेह वाले लोगों को और भी तकलीफ होने लगती है और उनकी ये बीमारी ठीक होने में काफी समय लग जाता है. लेकिन डॉक्टर को मजबूरन उसका हाथ काटना पड़ा जिससे उसके बाद उसकी हालत में सुधार देखा गया.

दरअसल, ये मामला दक्षिण कोरिया का है जहां पर एक शख्स को बाहर खाना महंगा पड़ गया. 71 वर्षीय ये शख्स जब एक रेस्टोरेंट में खाना खाने गया लेकिन जब घर आया तो कुछ घंटों बाद उसकी हालत खराब थी  जिसे देखकर वो भी हैरान था. घर लौटने के 12 घंटे बाद उसके हाथ की चमड़ी जैसे सड़ने लगी और देखते ही देखते उसके हाथ पर फोड़े पड़ गए जिससे उसे असहनीय दर्द होने लगा. इस फोड़े से उसकी चमड़ी भी सड़ने लगी. इसी को देखते हुए उसने डॉक्टर को दिखाया जो पता चला कि मांस खाने वाले बैक्टेरिया विब्रियो की वजह से ऐसा हुआ है, डॉक्टर ने उसके हाथ से पस निकाला लेकिन डॉक्टर ने बताया तब तक बहुत देर हो चुकी थी.

डॉक्टर ने बताया वो शख्स मधुमेह से पीड़ित था और उसे किडनी की बीमारी भी थी जिससे वो डायलिसिस पर था. डॉक्टरों ने उसे इंट्रावेनस एंटीबायोटिक्स दिया. आपको बता दें, ऐसी हालत में मधुमेह वाले लोगों को और भी तकलीफ होने लगती है और उनकी ये बीमारी ठीक होने में काफी समय लग जाता है. लेकिन डॉक्टर को मजबूरन उसका हाथ काटना पड़ा जिससे उसके बाद उसकी हालत में सुधार देखा गया.

You May Also Like

English News