रोने से लेकर सेक्स तक, इन तरीकों से होती है मांसपेशियों की वर्जिश

रोने से लेकर सेक्स तक, इन तरीकों से होती है मांसपेशियों की वर्जिश
आजकल फिट रहना किसी संघर्ष से कम नहीं है। जिम जानने से बचने के लिए लोग तरह-तरह के बहाने भी बनाते रहते हैं। लेकिन इससे आपको परेशान होने की जरुरत नहीं । 
रोने से लेकर सेक्स तक, इन तरीकों से होती है मांसपेशियों की वर्जिश

अब युवा फोन पे बात ही नही बल्कि सेक्स भी करते है

टेक्नीक फिजियोथेरेपी एंड स्पोर्टस मैग्जीन चलाने वाले एनॉटमी एक्सपर्ट माइक अंगर ने हमारे हर क्रियाकलाप को कुछ अंक दिए हैं जिनसे हम जान सकते हैं कि कौन सा काम करने पर हमारी कितनी मसल्स एक्टिव होती हैं।

 

सेक्स के दौरान हमारे शरीर की 657 मसल्स एक्टिव होती हैं। यहां तक कि मोबाइल पर मैसेज करने, बस के लिए दौड़ने और किस करने के दौरान भी हमारे शरीर की कई मसल्स एक्टिव होती हैं।

 

दौड़ने से हमारे शरीर की 99 मसल्स, किस के दौरान 35 मसल्स और टेक्स्ट करने के दौरान 85 मसल्स एक्टिव होती हैं। डांस करना शरीर के निचले हिस्से के लिए व्यायाम का काम करता है इससे 85 मसल्स एक्टिव होते हैं। 

 

यहां तक कि एक जगह से चिपककर टेलीविजन देखना भी हमारे मसल्स को एक्टिव करता है। इससे आंखों के 16 मसल्स एक्टिव होते हैं। अगर एक्सरसाइज की बात करें तो गोल्फ खेलने से शरीर के 137 मसल्स और साइकिलिंग करने से 155 मसल्स एक्टिव होते हैं। केवल रोने भर से हमारे चेहरे के 17 मसल्स एक्टिव होते हैं। 

रिसर्च में बड़ा खुलासा: भोजपुर के पति जानते हैं सिर्फ प्यार करना

अंगर के अनुसार इन एक्टिविटीज के साथ हमारा खुद एक्टिव होना भी जरूरी है तभी हमें इसका फायदा मिल सकता है और हमारे मसल्स स्वस्थ रह सकते हैं। अगर आप फिजिकली एक्टिव नहीं हैं तो इससे आपके 3 से 5 प्रतिशत तक मांसपेशियों का मास कम हो जाता है इसे आप नियमित व्यायाम और प्रोटीन की मात्रा लेकर दूर कर सकते हैं।

 

You May Also Like

English News