लखनऊ के पते पर नहीं रह रही थीं तन्वी, रद्द भी हो सकता है पासपोर्ट!

लखनऊ के हिंदू-मुस्लिम कपल के पासपोर्ट विवाद में जांच टीम को ने अहम खुलासा किया है. मोहम्मद अनस सिद्दीकी की पत्नी तन्वी सेठ (अब सादिया हसन) के लखनऊ आवास पहुंची लोकल इंटेलिजेंस टीम (LIU) टीम का कहना है कि तन्वी ने पासपोर्ट के लिए लखनऊ के जिस पते के दस्तावेज दिए हैं, वहां वह पिछले एक साल से कभी लंबे समय तक रही ही नहीं. एलआईयू की टीम वेरिफिकेशन के लिए सोमवार को लखनऊ स्थित तन्वी के ससुराल पहुंची थी.

बता दें कि पासपोर्ट के लिए तन्वी सेठ ने लखनऊ के कैसरबाग इलाके में झाऊलाल बाजार के पास चिकवाली गली में स्थित घर का पता दिया था, जहां उसके ससुराल वाले रहते हैं. जांच टीम ने बताया कि तन्वी के ससुराल वाले इस बात का कोई सबूत पेश नहीं कर सके कि तन्वी पिछले एक साल के दौरान वहां रही.

एलआईयू की टीम अब तन्वी के नोएडा स्थित आवास वेरीफिकेशन के लिए जाएगी. पुलिस सूत्रों का कहना है कि तन्वी ने पासपोर्ट के लिए आवास स्थान की गलत जानकारी दी, क्योंकि वह कभी लखनऊ के आवास पर लंबे समय तक रही ही नहीं. नियमों के मुताबिक, अगर तन्वी पर गलत जानकारी देने के आरोप सही पाए जाते हैं तो उसका पासपोर्ट रद्द किया जा सकता है.

चश्मदीद आया सामने, बोला- किडनैप करने की हुई कोशिश

हिंदू-मुस्लिम कपल को पासपोर्ट देने से मना करने पर शुरू हुए इस विवाद में बीते दिनों तब नया मोड़ आ गया, जब घटना का एक चश्मदीद भी सामने आया. कुलदीप सिंह नाम के शख्स का दावा है कि वह पासपोर्ट ऑफिस में घटी पूरी घटना के चश्मदीद हैं और इसीलिए शनिवार की दोपहर उन्हें अज्ञात बदमाशों ने किडनैप कर लिया था.

You May Also Like

English News