लखनऊ पुलिस ने पकड़ा भाजपा का फर्जी विधायक व मंत्री, लोगों को कर रहा था परेशान!

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की मडिय़ांव पुलिस ने एक फर्जी विधायक व कैबिनेट मंत्री को उसके साथियोंं के साथ गिरफ्तार किया है। फर्जी मंत्री टाटा सफारी कार पर भाजपा विधायक और कैबिनेट मंत्री लिखकर चलता था। लोगों को कैबिनेट मंत्री बता कर अर्दब लेकर उनके खाली पड़े प्लाटों को कब्जा करता था।


मडिय़ांव के अग्रसेन नगर भरतनगर निवासी पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष मानसिंह यादव परिवार के साथ रहते हैं। मानसिंह ने बताया कि उनके घर के समाने विशम् पाठक परिवार के साथ रहते हैं। विशम् पाठक अपनी सफारी कार में विधायक और कैबिनेट मंत्री लिखवा रखे हैं। लोगों को अर्दब में लेकर खाली पड़े प्लाटों पर कब्जा करते हैं।

मानसिंह यादव ने बताया घर के पास उनका भी खाली एक प्लाट पड़ा है जिसमे विशम् पाठक अपनी सफारी कार खड़ी करता था। मंगलवार को वह अपने प्लाट के चारों तरफ ब्राउंड्रीवाल का निर्माण करा रहे थे। दोपहर करीब 12 बजे दर्जन भर असल्हों से लैस होकर विशम् के साथी प्लाट पर पहुंचे और लेवर मिस्त्री को मारपीट कर भगा दिए।

विशम् की इस हरकत पर घर की महिलाओं ने विरोध किया। मानसिंह के मुताबिक विशम् अग्रसेन नगर स्थित शमसान घाट की जमीन पर कब्जा कर सबमर्सिबल लगाकर अवैध तरीके से टैंकरों में पानी भर बेचने का काम करता है। जिस पार्टी की सरकार होती है। वह उसी पार्टी का झंडा गाड़ी पर लगातार खुद को पदाधिकारी बता कर लोगों को अर्दब में लेता है।

वह खुद को भाजपा का विधायक और कैबिनेट मंत्री बता कर लोगों पर रोंब गांठता है। इंस्पेक्टर मड़यि़ांव अमरनाथ वर्मा ने बताया कि मानसिंह नामक शख्स की शिकायत पर उनकी टीम निर्माणाधीन प्लाट पर पहुंची। वहां सफारी कार पर विधायक और कैबिनेट मंत्री लिखा था जो मानसिंह के प्लाट के निर्माण में नाजायज तरीके से बाधा डाल रहे थे। पुलिस ने सफारी कार सीज कर आरोपी विशम् पाठक, कन्हैया मिश्रा, विकास शर्मा, संदीप अग्निहोत्री और राजाराम को गिरफ्तार कर लिया है।

You May Also Like

English News