लखनऊ में डॉक्टर की गला रेतकर हत्या, सड़क किनारे फेंका शव

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मड़ियाव क्षेत्र में बीती रात बदमाश एक डॉक्टर की गला रेतकर हत्या कर दी. इसके बाद उनके शव को सड़क किनारे फेंक फरार हो गए. राहगीरों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. घरवालों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गई है.लखनऊ में डॉक्टर की गला रेतकर हत्या, सड़क किनारे फेंका शवपुलिस के मुताबिक, मूलरूप से गोंडा निवासी डॉ. असगर अली (45) ठाकुरगंज थाना क्षेत्र के कैम्पवेल रोड पर अपने परिवार के साथ रहते हैं. वह ठाकुरगंज में स्थित बालागंज हॉस्पिटल में तैनात थे. सोमवार देर रात उनका शव मड़ियांव थाना क्षेत्र के गौरा भीठ में सड़क किनारे लहूलुहान पड़ा मिला. उनका गला रेता गया था.

इसकी सूचना मिलने पर एएसपी ट्रासंगोमती हरेंद्र कुमार समेत पुलिस टीम मौके पर पहुंची और घटना स्थल की पड़ताल की. पुलिस को मृतक की बाइक भी बरामद हुई. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस ने बताया कि कुछ सुराग हाथ लगे हैं. पुलिस मड़ियांव इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज खांगाल रही है.

थाना प्रभारी मड़ियांव अमरनाथ वर्मा ने बताया कि मृतक के परिजनों की तहरीर के आधार पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर लिया गया है. इस मामले की पड़ताल के लिए टीम गठित कर दी गई है. डॉक्टर किसके साथ और कब यहां आए या लाए गए इसकी जांच की जा रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है.

बताते चलें कि पिछले साल इलाहाबाद में एक जाने-माने सर्जन एके बंसल की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. हमलावरों ने हत्या की इस सनसनीखेज वारदात को उस वक्त अंजाम दिया जब डॉक्टर बंसल अपने चैंबर में बैठे थे. कुछ माह पहले भी उन पर जानलेवा हमला हुआ था. डॉ. एके बंसल जीवन ज्योति अस्पताल के निदेशक और मशहूर सर्जन थे.

वारदात के दिन वह अपने चैंबर में बैठे थे. तभी कुछ लोग मरीज के रूप में वहां आए. चैंबर में घुसकर डॉक्टर पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी. हमले में 

डॉक्टर बंसल को कई गोलियां लगी और वे लहूलुहान होकर वहीं गिर पड़े. इससे पहले कोई कुछ समझ पाता. हमलावर मौके से फरार हो गए. जब तक पुलिस मौके पर पहुंची, डॉक्टर की मौत हो चुकी थी.

You May Also Like

English News