लखनऊ: होटल के बेसमेंट में 4 मजदूरों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत…

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक होटल के बेसमेंट में 4 मजदूरों का शव मिलने से हड़कंप मच गया. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने चारों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं मृत मजदूरों के परिजनों और स्थानीय लोगों ने हत्या का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया. बवाल बढ़ता देख अधिकारियों ने होटल में पीएसी तैनात कर दी.लखनऊ: होटल के बेसमेंट में 4 मजदूरों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत...

पुलिस का कहना है कि कमरे के अंदर तसले में कोयले की राख मिली है. पुलिस ने शंका जाहिर की है कि हो सकता है कि मजदूरों ने ठंड से बचने के लिए अलाव जलाया हो. कमरा बंद होने से कोयले का धुआं अंदर भरता गया. दम घुटने से चारों मजदूरों की मौत हुई होगी.

पुलिस के मुताबिक, विभूतिखंड थाना क्षेत्र के शहीद पथ पर स्थित होटल रंजीत के बेसमेंट में सो रहे चार मजदूरों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. चारों मजदूरों के शव होटल के बेसमेंट में बने एक कमरे से बरामद हुए. वारदात का पता शनिवार की सुबह 7.0 बजे चला.

होटल की ही एक कर्मचारी जब अपने बाकी साथियों के खैर-खबर लेने के लिए होटल के बेसमेंट में बने कमरे में पहुंचा तो वहां अपने चारों साथी मजदूरों को मृत पाया. उसने तुरंत होटल प्रबंधन और पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने बेसमेंट से शव को निकाला.

पुलिस ने पूरे इलाके को सीज कर अपनी जांच तेज कर दी है. पुलिस ने मृतकों की पहचान इंदिरानगर के इस्माइलगंज के रहने वाले 30 वर्षीय रामकुमार, विकासनगर के सेक्टर-12 निवासी 31 वर्षीय रामनरेश, गोमतीनगर के विशालखंड में रहने वाले 29 वर्षीय मोहम्मद सईद और इंदिरानगर के चांदन गांव निवासी मोहम्मद निहाल के रूप में की है. 

पुलिस का कहना है कि बेसमेंट में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया तो पता चला कि सुबह करीब 3:28 बजे किसी ने ठंड से बचने के लिए आग जलाई और उसे बंद केबिन के अंदर ले गया. होटल प्रशासन ने बताया कि मृद मजदूर होटल में इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर जैसे काम करते थे.

पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए लोहिया अस्पताल भेज दिया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की असली वजह सामने आ पाएग. वहीं मृतक के परिजनों ने घटना के सामने आने के बाद हंगामा शुरू कर दिया और हत्या का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग करने लगे.

माहौल गरमाता देख होटल में पीएसी तैनात कर दी गई. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में इकट्ठा हुई भीड़ ने पुलिस से हाथापाई भी की. पुलिस ने जैसे-तैसे भीड़ को तितर-बितर किया. SSP दीपक कुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

You May Also Like

English News