लूट की वारदात में किसी करीबी का हाथ होने की आशंका

मलिहाबाद 15 लाख रुपये लूट की घटना
लखनऊ: मलिहाबाद इलाके में शुक्रवार की रात फ्लोर मिल मुनीम व चालक से हुई 15 लाख की लूट के मामले में पुलिस मिल के ही मौजूदा व पूर्व कर्मचारियों पर नज़र बनाये हुए है। पुलिस का मानना है कि लूट की इस वारदात में कोई करीबी शामिल है। वहीं बदमाश बैग में रुपये के साथ मोबाइल फोन भी लूट कर ले गये थे।

पुलिस सर्विलांस की मदद से लूटे गये मोबाइल की लोकेशन व डीटेल निकालने में लगी है। सीओ मलिहाबाद रोहित सहजवान ने बताया कि अभी तक की गयी छानबीन में लूट की बात सही मिली है। उन्होंने बताया कि अब पुलिस इस बात का पता लगाने में जुटी है कि बदमाशों को रुपये के बारे में कैसे पता चला? पुलिस का मानना है कि रुपये के बारे में किसी न किसी ने तो बदमाशों को मुखबिर की है। इसके बाद ही बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया है। बदमाश कार से जो बैग लूटकर ले गये थे उसमें रुपये के अलावा मोबाइल फोन भी रखा था। पुलिस लूटे गये मोबाइल फोन की लोकेशन व उसकी डीटेल निकालने में लगी है।

वहीं पुलिस मिल में काम करने वाले कर्मचारी व पूर्व कर्मचारियों का ब्योरा भी जुटा रही है। घटना के वक्त मौजूद मुनीम जीतेन्द्र व चालक रवि की भूमिका की भी पुलिस जांच कर रही है। पुलिस ने दोनों के मोबाइल फोन की कॉल डीटेल निकलवायी है और उसकी छानबीन कर रही है। पुलिस के अलावा आटा मिल के मालिकों का भी यही मानना है कि लूट की इस वारदात में कोई ऐसा शामिल है जिसको रुपये के बारे में पहले से पता था। वहीं पुलिस घटनास्थल के पास लगे मोबाइल टावर की मदद से संदिग्ध मोबाइल नम्बरों को भी खंगाल रही है। सीओ मलिहाबाद ने बताया कि फिलहाल अभी तक पुलिस के हाथ लुटेरों का सुराग नहीं लगा है, पर जल्द ही इस सनसनीखेज वारदात का खुलासा कर लिया जायेगा।

ज्ञात हो कि शुक्रवार की रात हरदोई सण्डील स्थित आटा मिल का मुनीम व चालक चौक निवासी मिल के पार्टनर आलोक गुप्ता के घर से 15 लाख रुपये लेकर इण्डिका कार से वापस मिल जा रहे थे। रास्ते मेें मलिहाबाद के गढ़ी जिंदौर इलाके में दो अपाचे बाइक सवार 5 असलहाधारी बदमाशों ने कार पर ताबड़तोड़ फायरिंग करते हुए 15 लाख रुपये लूट लिये थे।

You May Also Like

English News