कहा सस्ता होने वाला था पेट्रोल और डीजल लेकिन हो गया महंगा

तेल निर्यातक देशों का प्रमुख संगठन ओपेक कच्चा तेल के उत्पादन में 7 लाख बैरल प्रतिदिन की कटौती पर सहमत हो गया है। इससे वैश्विक बाजार में कच्चे तेल के दाम में 5 फीसदी से ज्यादा महंगा हो गया है। 

कहा सस्ता होने वाला था पेट्रोल और डीजल लेकिन हो गया महंगा

अल्जीरिया में ओपेक देशों की अनौपचारिक बातचीत के दौरान ईरान को लेकर सऊदी अरब के रुख में नरमी से यह समझौता संभव हुआ है। वर्ष 2008 के बाद पहली बार ओपेक देश उत्पादन घटाने पर सहमत हुए हैं। 

वैश्विक बाजार में जून 2014 में 115 डॉलर प्रति बैरल के पार रहा ब्रेंट क्रूड अतिउत्पादन के दबाव में 45 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर बना हुआ था। कम कीमतों के कारण ओपेक देश उत्पादन में कटौती पर गंभीरता से विचार कर रहे थे, लेकिन सऊदी और ईरान की प्रतिद्वंद्विता के कारण समझौता नहीं हो पा रहा था।

 
 

You May Also Like

English News