लेफ्टिनेंट फैयाज को अगवा कर आतंकियों ने उतारा मौत के घाट, इलाके में आक्रोश!

जम्मू :  दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों ने युवा लेफ्टिनेंट उमर फैयाज का अपहरण कर उनकी हत्या कर दी। फैयाज जम्मू के अखनूर में सेना की राजपूताना राइफल में तैनात थे। उन्होंने पांच महीने पहले ही एनडीए से सेना में कमीशन प्राप्त किया था।

बुधवार को कुलगाम में उसके पैतृक निवासी पर उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान काफी संख्या में लोगों ने फैयाज के जनाजे में पहुंचकर उनको श्रद्धांजलि दी। इससे पहले आतंकियों के जनाजे में ही भारी संख्या में लोगों को शामिल होते देखा गया है। फैयाज सेना में अधिकारी होने की वजह से अपने गांव में काफी लोकप्रिय थे। उनके इलाके के युवा उनको अपना आदर्श मानते थे। फैयाज का जन्म उत्तरी कश्मीर के कुलगाम में हुआ था।

आतंकियों की धमकी को दरकिनार कर सेना में अफसर बने थे फैयाज। कुलगाम जिला आतंकियों के गढ़ के रूप में माना जाता है। आए दिन आतंकी युवाओं को सेना और पुलिस की नौकरी नहीं करने की धमकी देते हैं। आतंकियों की धमकियों का दरकिनार कर फैयाज ने एनडीए पास कर सेना में कमीशन प्राप्त की। फैयाज की खेलों में भी काफी रुचि थी। वे एनडीए की हॉकी टीम में भी रह चुके हैं। उसके पिता पेशे से किसान हैं और वे घाटी में सेब की खेती करते हैं। उनकी मौत से पूरे इलाके में शोक की लहर है।

You May Also Like

English News