लॉर्ड्स टेस्ट में कुलदीप यादव को चुनना गलती थी: रवि शास्त्री

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा कि लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल करना गलती थी.भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा कि लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल करना गलती थी.  शास्त्री ने कुलदीप को दूसरे टेस्ट मैच में खिलाने के सवाल पर कहा, 'साफ तौर पर देखा जाए, तो यह गलती थी. परिस्थितियों को देखते हुए हम प्लेइंग इलेवन में एक तेज गेंदबाज अधिक खिला सकते थे. इससे हमें जरूर मदद मिलती.'  टेस्ट में पारी की शुरुआत की पेशकश की गई तो इसके लिए तैयार हूं: रोहित  प्लेइंग इलेवन में हालांकि, अपने कदम का बचाव करते हुए कोच शास्त्री ने कहा, 'अगर आप देखें, तो आप बारिश का अंदाजा नहीं लगता सकते थे. हमें कुलदीप की जरूरत पड़ती, लेकिन दूसरे टेस्ट मैच की परिस्थितियों को देखें तो तेज गेंदबाज बेहतर विकल्प होता.'  इसके अलावा शास्त्री ने तीसरे टेस्ट मैच से पहले संघर्ष कर रहे टीम के बल्लेबाजों से अधिक अनुशासन और धैर्य दिखाने की मांग की है.  PAK जा रहे क्रिकेटरों से बोले थे अटल- खेल ही नहीं दिल भी जीत कर आना  शास्त्री ने कहा, ‘इस सीरीज में परिस्थितियां काफी मुश्किल रही है. लेकिन ऐसी ही स्थिति में आपको जज्बा और अनुशासन दिखाने का मौका मिलता है. अपको ऑफ स्टंप के बारे में पता होना चाहिए और काफी गेंदों को छोड़ना होगा. आपको धैर्य दिखाने के लिए तैयार रहना होगा.’  भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट मैच 18 अगस्त से नॉटिंघम में खेला जाएगा. मेजबान टीम इंग्लैंड ने पिछले दोनों मैचों में जीत हासिल कर पांच टेस्ट मैचों की इस सीरीज में 2-0 से बढ़त बना रखी है.

शास्त्री ने कुलदीप को दूसरे टेस्ट मैच में खिलाने के सवाल पर कहा, ‘साफ तौर पर देखा जाए, तो यह गलती थी. परिस्थितियों को देखते हुए हम प्लेइंग इलेवन में एक तेज गेंदबाज अधिक खिला सकते थे. इससे हमें जरूर मदद मिलती.’

प्लेइंग इलेवन में हालांकि, अपने कदम का बचाव करते हुए कोच शास्त्री ने कहा, ‘अगर आप देखें, तो आप बारिश का अंदाजा नहीं लगता सकते थे. हमें कुलदीप की जरूरत पड़ती, लेकिन दूसरे टेस्ट मैच की परिस्थितियों को देखें तो तेज गेंदबाज बेहतर विकल्प होता.’

इसके अलावा शास्त्री ने तीसरे टेस्ट मैच से पहले संघर्ष कर रहे टीम के बल्लेबाजों से अधिक अनुशासन और धैर्य दिखाने की मांग की है.

शास्त्री ने कहा, ‘इस सीरीज में परिस्थितियां काफी मुश्किल रही है. लेकिन ऐसी ही स्थिति में आपको जज्बा और अनुशासन दिखाने का मौका मिलता है. अपको ऑफ स्टंप के बारे में पता होना चाहिए और काफी गेंदों को छोड़ना होगा. आपको धैर्य दिखाने के लिए तैयार रहना होगा.’

भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट मैच 18 अगस्त से नॉटिंघम में खेला जाएगा. मेजबान टीम इंग्लैंड ने पिछले दोनों मैचों में जीत हासिल कर पांच टेस्ट मैचों की इस सीरीज में 2-0 से बढ़त बना रखी है.

You May Also Like

English News